'अमित शाह ने चुनाव शपथपत्र में दी ग़लत जानकारी, चुनाव आयोग में करेंगे शिकायत'

अमित शाह ने चुनाव शपथपत्र में दी ग़लत जानकारी, चुनाव आयोग में करेंगे शिकायत


नई दिल्ली। कांग्रेस ने भाजपा अध्यक्ष अमित शाह पर चुनाव शपथपत्र में ग़लत जानकारी देने का आरोप लगाया है। पार्टी इस मामले को लेकर चुनाव आयोग में शिकायत करेगी।

कांग्रेस नेता जयराम रमेश ने भाजपा पर आरोप लगाते हुए कहा कि शाहजादा धारावाहिक का आज दूसरा कांड सामने है। उन्होंने टेम्पल इंटरप्राइजेज को लेकर भाजपा अध्यक्ष अमित शाह पर आरोप लगाते हुए कहा कि टेम्पल तो बंद हो गया लेकिन उसके बदले कुसुम फिनसर्व उभरकर आया है। इसका नेटवर्क 6 करोड़ रुपये है। इसने अलग-अलग बैंको से 54 करोड़ उधार की सुविधा ली है।

कुसम फिनसर्व ने उधार लेते हुए अहमदाबाद के पास दो भूखंड और एक बिल्डिंग गिरवी रखी है। जिस जमीन के मालिक जय शाह नहीं अमित शाह खुद हैं। जय शाह ने पिता के नाम लोन लिये लेकिन अमित शाह ने जब राज्यसभा सदस्य बनने से पहले शपथ पत्र भरा तो उन्होंने लिखा कि उनकी कोई लाइबिलिटी नहीं, कोई देनदारी नहीं।

जयराम ने भाजपा अध्यक्ष से सवाल करते हुए कहा कि उन्होंने चुनाव लड़ते समय शपथ पत्र में ये जानकारी क्यों नही दी? गुजरात इंडस्ट्रियल एस्टेट ने एक भूखंड अमित शाह को लीज पर दिया गया था, जिसे अमित शाह ने गिरवी रख दिया। ऐसा क्यों किया गया। इस कंपनी ने आज तक 2016-17 की एनुअल रिपोर्ट सरकार को पेश नहीं की, ऐसी छूट कंपनी को क्यों दी। देश के व्यापार बंद हो रहे हैं और शाह स्टार्टअप धड़ल्ले से चल रहे हैं। बिना किसी अनुभव के ऊर्जा के प्रोजेक्ट मिल रहे हैं। सहकारी बैंक से उधार मिल रहे हैं, जिन बैंकों के मुखिया भाजपा नेता नितिन पटेल हैं।

उन्होंने कहा कि इरडा के नियमों के अनुसार एक व्यक्ति को 5 करोड़ से ऊपर नहीं दिया जा सकता लेकिन कुसुम फिनसर्व को साढ़े 10 करोड़ रुपये दिये गये। कुसुम फिनसर्व एक वित्तीय व्यापार कम्पनी है और इसको ऊर्जा मंत्रालय की संस्था इरडा ने पिछले साल रतलाम में पवन ऊर्जा लगाने के लिए करीब साढ़े 10 करोड़ रुपये उधार दिये। ऊर्जा मंत्रालय ने किस आधार पर ये पैसा दिया? कानून के मुताबिक कुसुम फिनसर्व को हर साल रिपोर्ट सरकार को देनी होती है। आज तक 2016-17 की वार्षिक रिपोर्ट तक पेश नहीं की है। ये कानून के खिलाफ है। ये अपराध है और कार्रवाई के लायक है।

उन्होंने कहा कि कुसुम फिनसर्व ने उधार लेते समय दो अलग-अलग भूखंड गिरवी रखे हैं, जिसके मालिक जय शाह नहीं बल्कि अमित शाह हैं। टेम्पल इंटरप्राइजेज धारावाहिक के बाद आज देश के सामने कुसुम फिनसर्व उभर कर आया है। इसके मालिक जय शाह और उनकी पत्नी हैं।


Share it
Share it
Share it
Top