दुष्कर्म के विरोध में हुई थी संस्कृति की हत्या, एक ​गिरफ्तार..मामले का खुलासा करने वाली टीम को मिलेगा 50 हजार इनाम

दुष्कर्म के विरोध में हुई थी संस्कृति की हत्या, एक ​गिरफ्तार..मामले का खुलासा करने वाली टीम को मिलेगा 50 हजार इनाम



लखनऊ। राजधानी में बीते महीने हुई संस्कृति राय हत्याकांड के खुलासा का दावा करते हुए पुलिस ने एक अभियुक्त को ​गिरफ्तार किया है। इसके साथ ही अपर पुलिस महानिदेशक राजीव कृष्णा ने मामले का खुलासा करने वाली टीम के सदस्यों को 50 हजार रुपये इनाम देने की घोषणा की है।
बंदरिया बाग स्थित पुलिस कार्यालय में गुरुवार को अपर पुलिस महानिदेशक लखनऊ राजीव कृष्णा ने पत्रकार वार्ता करते हुए बताया कि दुष्कर्म का विरोध करने पर संस्कृति राय की हत्या की गई थी। इसमें सीतापुर के राजेश को गिरफ्तार करके संस्कृति के पास से लूटा गया सामान बैग और मोबाइल बरामद ​कर लिया गया है।
राजीव कृष्णा ने बताया कि महत्वपूर्ण रूप से यह मालूम हुआ है कि राजेश अकेला नहीं था, उसके तीन साथी और हैं जो घटना में शामिल है। उनकी तलाश हो रही है और बहुत जल्द तीनों गिरफ्तार हो जायेंगे।
उन्होंने बताया कि पिछले दिनों लखनऊ में हुई घटना के बाद से ही पुलिस अधीक्षक उत्तर और पुलिस अधीक्षक ट्रांसगोमती के नेतृत्व में एक टीम खुलासे के लिए कार्य कर रही थी, जिन्होंने सैकड़ों मोबाइल नम्बरों को सर्विलांस पर ले रखा था और सीसीटीवी कैमरे की गहनता से जांच की थी। इसमें सीसीटीवी जांच के दौरान रात्रि आठ बजकर 31 मिनट पर राजेश को देखा गया था। उसी सूत्र से कड़ी जोड़ते हुए आरोपी राजेश तक टीम के सदस्य पहुंच गये।
बता दें कि बलिया से लखनऊ आयी संस्कृति राय पॉलीटेक्निक कालेज में द्वितीय वर्ष की छात्रा थी। प्रथम वर्ष की पढ़ाई के दौरान वह कालेज के हास्टल में ही रहती थी, जबकि द्वितीय वर्ष के दौरान उसने इंदिरानगर के अरोड़ा भवन में किराये का कमरा ले लिया था। वह 21 जून की रात अपने घर बलिया जाने के लिए बैग लेकर निकली थी। इसके बाद 22 जून की सुबह मड़ियांव में मरणासन्न हालत में मिली थी।

Share it
Share it
Share it
Top