रविदास मंदिर गिराये जाने के विरोध का मामला...भीम आर्मी प्रमुख समेत 96 लोगों को जेल भेजा

रविदास मंदिर गिराये जाने के विरोध का मामला...भीम आर्मी प्रमुख समेत 96 लोगों को जेल भेजा

नई दिल्ली। दिल्ली के तुगलकाबाद में गुरु रविदास मंदिर गिराये जाने के बाद हिंसा मामले में गिरफ्तार भीम सेना के प्रमुख चंद्रशेखर समेत गिरफ्तार सभी 96 लोगों को अदालत ने गुरुवार को 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया है। यह मंदिर उच्चतम न्यायालय के आदेश पर गिराया गया था। मंदिर गिराने के विरोध में भीम सेना के कार्यकर्ताओं ने प्रमुख चंदेशखर की अगुवाई ने बुधवार को प्रदर्शन किया था और हिंसा पर उतर आये और उत्पात मचाया तथा कई वाहनों में तोडफ़ोड़ की थी। दिल्ली पुलिस ने आजाद और अन्य के खिलाफ गोविंदपुरी थाना क्षेत्र में भारतीय दंड संहिता की धारा 147, 149, 186, 353 और 332 के तहत मामला दर्ज किया था। सभी को आज साकेत की अदालत में पेश किया गया, जहां से उन्हें 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया। पुलिस और आंदोलनकारियों में झड़पें भी हुई थी। आंदोलनकारियों को तितर-बितर करने के लिए पुलिस को बल प्रयोग और आंसू गैस के गोले भी चलाने पड़े थे। हिंसक घटनाओं में 15 पुलिसकर्मी भी घायल हुए थे। उच्चतम न्यायालय ने 19 अगस्त को अपने आदेश में कहा था कि तुगलकाबाद वन क्षेत्र में गुरु रविवाद मंदिर के संबंध में उसके आदेश को 'राजनीतिक रंग' नहीं दिया जा सकता है। न्यायालय ने पंजाब, हरियाणा और दिल्ली की सरकारों से कहा था कि वह कानून और व्यवस्था सुनिश्चित करे।

Share it
Top