सहारनपुर जनपद में जहरीली शराब से मरने वालों की संख्या 90 से ऊपर हुई, एसआईटी ने शुरू की जांच

सहारनपुर जनपद में जहरीली शराब से मरने वालों की संख्या 90 से ऊपर हुई, एसआईटी ने शुरू की जांच


, तीन दर्जन मृतक आश्रितों को दो-दो लाख के दिए चैक

सहारनपुर (गौरव सिंघल)। सहारनपुर जनपद में जहरीली शराब से पांच दिनों के भीतर मरने वालों की संख्या आज 90 से ऊपर हो गई है। देवबंद थाना क्षेत्र के गांव शिवपुर में एक व्यक्ति ने आज दम तोड़ दिया। जबकि दो लोगों जाॅनी पुत्र रघुवीर निवासी गांव कोलकी कलां और कमल पुत्र पलटू निवासी गांव नंगला अहिर थाना गागलहेड़ी की बीती रात मौत हो गई। दोनों के परिजन बिना पोस्टमार्टम कराए शवों को अपने साथ ले गए। अभी भी तीन दर्जन से ज्यादा लोगों का विभिन्न अस्पतालों में उपचार जारी है।

एडीजी रेलवे संजय सिंघल की अध्यक्षता में गठित एसआईटी ने आज अपनी जांच शुरू कर दी। टीम के सदस्य सहारनपुर के कमिश्नर चंद्रप्रकाश त्रिपाठी ने बताया कि मंगलवार शाम तक संजय सिंघल सहारनपुर पहुंचेंगे और अधिकारियों के साथ मीटिंग कर शराब से पीकर मरने वालों के बारे में जानकारी लेंगे और टीम मृतकों के परिजनों से मिलकर उनके बयान दर्ज करेगी। ध्यान रहे उत्तर प्रदेश के सहारनपुर, कुशीनगर और उत्तराखंड के हरिद्वार जिले में छह फरवरी से 12 फरवरी के बीच जहरीली शराब पीने से सबसे ज्यादा मौतें सहारनपुर जिले में हुई है। शराब कांड में सहारनपुर के तीन थाना क्षेत्रों गागलहेड़ी, नांगल और देवबंद के सोलह गांव प्रभावित हुए हैं।

एसएसपी दिनेश कुमार पी ने बताया कि शराब माफियाओं की गिरफ्तारी को हरिद्वार और सहारनपुर की मिलकर संयुक्त अभियान चला रही है और इस कांड में शामिल सभी शराब माफियाओं को चिन्हित कर लिया गया है। मुख्य रूप से इसमें दस लोग शामिल हैं। इनमें से दोनों जिलों की पुलिस ने छह माफियाओं को गिरफ्तार कर लिया है और चार की गिरफ्तारी शेष है। सोमवार शाम को सहारनपुर पहुंचे हरिद्वार के एसएसपी जन्मेयजय खंडूरी ने सहारनपुर के एसएसपी के साथ पूरे मामले की समीक्षा की और सूचनाओं का आदान-प्रदान भी किया। दोनों ने संयुक्त रूप से पत्रकारों को बताया िकइस कांड में सहारनपुर के थाना गागलहेड़ी के गांव पुंडेन निवासी सरदार हरदेव सिंह और गांव चुन्हेटी शेख निवासी सुखविंदर सिंह उर्फ सुक्खा और इनके साथी गुरू साहब उर्फ लाडी निवासी सरदारों का डेरा ग्राम चुन्हेटी और टिंकू पुत्र धीरसिंह ग्राम पुंडेन और सर्वेश गुप्ता उर्फ पिंकी निवासी गांव चुन्हेटी शेख को गिरफ्तार कर लिया गया है।

इस गिरोह में शामिल ग्राम पुंडेन निवासी लखविंदर उर्फ बाबा, भरतू निवासी ग्राम पुंडेन और ऋषिपाल निवासी ग्राम भलसावा थाना नांगल और अर्जुन निवासी ग्राम डाडली तेजपुर जिला हरिद्वार शामिल हैं, जिनकी गिरफ्तारी हेतु दबिशे दी जा रही है। एसएसपी दिनेश कुमार पी के मुताबिक शराब माफिया लाडी को पिछले साल दिसंबर में गिरफ्तार कर जेल भेजा गया था। एसएसपी ने बताया कि उत्तराखंड में गिरफ्तार किए गए सोनू को इन्हीें लोगों ने शराब की आपूर्ति की थी। इन्होंने करीब 5.0 लीटर केमिकल में उतना ही पानी मिलाकर शराब बनाई थी। एसएसपी ने कहा कि जांच के बाद ही पता चलेगा कि जानलेवा जहरीला रसायन क्या था। उधर, कमिश्नर सीपी त्रिपाठी ने बताया कि एसआईटी की जांच दस दिन के भीतर पूरी कर ली जाएगी और जांच तेजी से साथ की जाएगी ताकि आरोपी अधिकारियों और कर्मचारियों के खिलाफ समय रहते विभागीया कार्रवाई अमल में लाई जा सके। जिलाधिकारी पांडे ने बताया कि 36 मृतक आश्रितों को प्रशासन की ओर से 2-2 लाख रूपए के चैक सौंप दिए गए हैं। बाकी बचे मृतकों की सूची मिलने के बाद अमल में लाई जाएगी।

Share it
Top