वोट बैंक की परवाह किए बिना हटाया अनुच्छेद-370, 35-ए : अमित शाह

वोट बैंक की परवाह किए बिना हटाया अनुच्छेद-370, 35-ए : अमित शाह


जींद। केंद्रीय गृहमंत्री और भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने आज कहा कि नरेंद्र मोदी सरकार ने वोट बैंक की परवाह किए बिना ही राष्ट्रहित में जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद-370 और 35-ए हटाने का फैसला लिया है और आरोप लगाया कि कांग्रेस ने वोट बैंक की राजनीति के कारण देश की एकता और अखंडता में बाधा बने इन अनुच्छेदों को नहीं हटाया था।

वह यहां पार्टी की आयोजित रैली में बोल रहे थे। श्री शाह ने कहा कि यह बड़ा काम वही कर सकता है, जिसे वोट बैंक का लालच नहीं हो और भाजपा व कांग्रेस में यही बड़ा फर्क है। उन्होंने कहा कि इस फैसले से जम्मू-कश्मीर और लेह-लद्दाख विकास के रास्ते पर आगे बढ़ेंगे और कश्मीर घाटी से आतंकवाद समाप्त होगा। उन्होंने कहा कि इस निर्णय से अखंड भारत का वह सपना पूरा हुआ है, जो श्यामा प्रसाद मुखर्जी, पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी आदि ने देखा था।

प्रधानमंत्री के कल लाल किले से राष्ट्र के नाम संबोधन में देश में तीनों सेनाओं के लिए चीफ आफ डिफेंस स्टाफ की नियुक्ति के ऐलान को लेकर श्री शाह ने कहा कि कारगिल युद्ध के बाद इसकी जरूरत महसूस की गई थी लेकिन उसके बाद किसी भी सरकार ने इसकी परवाह नहीं की।

शाह ने कहा कि इस फैसले से भारत की सेना की देश की सीमाओं की रक्षा की क्षमता कई गुणा बढ़ेगी और तीनों सेनाओं के बीच बेहतर तालमेल होगा और दुश्मन के लिए यह बहुत बड़ा वज्र प्रहार होगा।

शाह ने केंद्र सरकार की किसान सम्मान निधि योजना, छोटे व्यापारियों के लिए पेंशन योजना से लेकर जल शक्ति मंत्रालय बनाए जाने का विशेष रूप से उल्लेख करते हुए कहा कि देश में जो काम 70 साल में नहीं हो पाया, उसे मोदी सरकार-2 ने 70 दिनों में पूरा कर दिखाया है।

रैली को संबोधित करते हुए हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने कहा कि देश की एकता और अखंडता में बहुत बड़ी बाधा बने अनुच्छेद 370 और 35-ए को हटाकर प्रधानमंत्री मोदी और गृह मंत्री शाह ने भारत को अखंड बनाने का काम किया है।


Share it
Top