मुज़फ्फरनगर : सुशील मूंछ की हत्या के लिये फरार हुआ कुख्यात रोहित उर्फ सांडू...सांडू की फरारी के पीछे भूपेन्द्र बाफर का हाथ, गिरफ्तार

मुज़फ्फरनगर : सुशील मूंछ की हत्या के लिये फरार हुआ कुख्यात रोहित उर्फ सांडू...सांडू की फरारी के पीछे भूपेन्द्र बाफर का हाथ, गिरफ्तार

मुजफ्फरनगर। पुलिस ने आज कुख्यात रोहित उर्फ सांडू की फरारी के मामले में एक सनसनीखेज खुलासा करते हुए बताया कि सांडू की फरारी के पीछे माफिया डॉन भूपेन्द्र बाफर का हाथा है। पुलिस ने भूपेन्द्र बाफर सहित चार आरोपियों को गिरफ्तार करने का दावा भी किया है। पुलिस के अनुसार कुख्यात सांडू को माफिया डॉन सुशील मूछ पर हमला कराने के लिये पुलिस हिरासत से छुडाया गया है। पुलिस लाईन के सभागार में पत्रकारों से वार्ता करते हुए वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अभिषेक यादव और एसपी सिटी सतपाल अंतिल ने संयुक्त रूप से बताया कि 2 जुलाई को मुजफ्फरनगर कचहरी से पेशी के बाद वापस मिर्जापुर जेल ले जाये जा रहे रोहित सांडू को उसके साथी जानसठ के सालारपुर स्थित एक ढाबे से छुड़ा ले गए थे। बदमाशों ने एक दरोगा को भी गोली मार दी थी। पुलिस ने रोहित को पकडऩे के लिये सर्विलांस का भी सहारा लिया तथा वारदात के समय व सांडू की पेशी के दौरान उसके आसपास सक्रिय रहे मोबाइल नम्बरों की डिटेल भी खंगाली और कई लोगों के नम्बरों को सर्विलांस पर भी लिया। पुलिस को सर्विलांस के सहारे मामले का खुलासा होने की पूरी उम्मीद थी, लेकिन पुलिस को कोई सफलता नहीं मिली। रोहित की गिरफ्तारी के लिये पुलिस की अलग-अलग कई टीमों का गठन किया गया था। सूत्रों की मानें तो पुलिस ने सांडू की पैरोकारी करने के अलावा उन लोगों पर भी शिकंजा कसा, जो उससे जेल में मुलाकात करते रहे हैं। सांडू की गिरफ्तारी के लिये क्राइम ब्रांच के अलावा पुलिस की चार टीमों का गठन किया गया था। इस दौरान सांडू के साथियों की गोलियों से घायल हुए दरोगा दुर्गविजय सिंह की दिल्ली के अस्पताल में मौत हो गई थी। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अभिषेक यादव ने बताया कि जानसठ पुलिस ने सांडू की फरारी के मामले में माफिया भूपेन्द्र बाफर निवासी जानी मेरठ, संजय निवासी सकौती, अक्षित निवासी बसेडा तथा रवि राठी निवासी सोंटा को गिरफ्तार किया है, जिनसे की गई पूछताछ में सामने आया है कि सांडू को बाफर ने सुशील मूंछ पर हमला करने के लिये रिहा कराया था। सांडू को छुडाने में प्रयोग की गई कार हरियाणा से लूटी गई थी। एसएसपी ने बताया कि सांडू की फरारी के समय उसका एक साथी शुभम भी पुलिस की गोली लगने से घायल हो गया था। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक ने पुलिस टीम की जमकर प्रशंसा करते हुए पुरस्कृत करने की घोषणा की है।

Share it
Top