पडौसी देश ने एक बार फिर किया संघर्ष विराम का उल्लंघन...गोलीबारी में बीएसएफ के चार जवान शहीद

पडौसी देश ने एक बार फिर किया संघर्ष विराम का उल्लंघन...गोलीबारी में बीएसएफ के चार जवान शहीद

जम्मू। पाकिस्तानी सैनिकों ने फिर संघर्षविराम का उल्लंघन करते हुए जम्मू-कश्मीर के सांबा जिले में नियंत्रण रेखा पर मंगलवार की रात अकारण गोलीबारी की, जिससे सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) के चार जवान शहीद हो गये, जबकि पांच अन्य घायल हो गये।
पुलिस महानिरीक्षक (बीएसएफ) राम अवतार ने बताया कि पाकिस्तानी सैनिकों ने सीमा पार से रामगढ़ सैक्टर में चंबलियाल सीमा चौकी पर रात करीब साढ़े दस बजे गोलीबारी शुरु की। जवाबी कार्रवाई में भारतीय सैनिकों ने
भी गोलियां चलायी। गोलीबारी रात दो बजे तक चलती रही। सूत्रों के मुताबिक गोलीबारी रूक-रूक कर अभी भी जारी है। उन्होंने बताया कि गोलीबारी में एक सहायक कमांडेंट रेंक के अधिकारी और तीन जवान शहीद हो गये। शहीद बीएसएफ जवानों की पहचान सहायक कमांडेंट जतिन्द्र सिंह, सिपाही हंस राज, एएसआई राम निवास और एसआई जंताल के रुप में की गई है। घायल जवानों को अस्पताल में भर्ती कराया गया है। गत 29 मई को सैन्य अभियान महानिदेशक (डीजीएमओ) स्तर की बैठक के बाद संघर्षविराम उल्लंधन की यह दूसरी बड़ी घटना है। उस बैठक में दोनों ओर से सीमा पर शांति बहाल करने की सहमति जतायी गयी थी।
दूसरी ओर जम्मू-कश्मीर की मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने सांबा जिले के रामगढ़ सैक्टर में बुधवार को सीमा पार से हुई गोलीबारी में सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) के एक अधिकारी समेत चार जवानों की शहादत पर शोक व्यक्त किया है। सुश्री मुफ्ती ने शहीद जवानों को श्रद्धांजलि व्यक्त करते हुए सीमा के इर्द गिर्द संघर्ष पर रोक लगाने की मांग दोहरायी ताकि सीमा के पास रहने वाले लोगों की जान और संपत्तियों की रक्षा की जा सके। उन्होंने कहा कि सीमा के पास रहने वाले लोग पिछले कुछ महीनों से तकलीफदेह परिस्थिति से जूझ रहे हैं जिससे वे संवेदनशील हालात में पहुंच गये हैं।Þ

Share it
Share it
Share it
Top