सात माह का भ्रूण थैले में लेकर एसएसपी से फरियाद लगाने पहुंची गैंगरेप पीड़िता

सात माह का भ्रूण थैले में लेकर एसएसपी से फरियाद लगाने पहुंची गैंगरेप पीड़िता

मेरठ। एसएसपी कार्यालय में शुक्रवार को उस समय हड़कंप मच गया, जब एक गैंगरेप पीड़िता किशोरी सात माह के भ्रूण को थैले में लेकर एसएसपी के सामने पहुंच गई। एसएसपी ने आरोपियों के खिलाफ तत्काल कार्यवाही के आदेश दिए हैं। लिसाड़ी गेट क्षेत्र की मदीना काॅलोनी निवासी महिला अपनी 14 वर्षीय पुत्री को लेकर एसएसपी कार्यालय पहुंची।
एसएसपी राजेश पांडे से शिकायत करते हुए महिला ने बताया कि करीब दस माह पूर्व उसकी 14 वर्षीय पुत्री घर में अकेली थी। महिला ने आरोप लगाया कि इसी दौरान क्षेत्र के रहने वाले आदिल, हसन व एक अन्य अज्ञात युवक उसके घर में घुस गए। आरोपियों ने उसकी पुत्री को तमंचा दिखाकर उसके साथ गैंगरेप किया और उसकी अश्लील वीडियो बना ली। पिछले दस माह से वीडियो को सोशल मीडिया पर सार्वजनिक करने की धमकी देकर आरोपी उसकी पुत्री के साथ दुष्कर्म करते रहे। इसी दौरान उसकी पुत्री गर्भवती हुई तो उसे जबरन दवाई खिलाकर उसका सात माह का गर्भपात करा दिया। बेटी की तबीयत बिगड़ने उसने क्षेत्र के एक डाॅक्टर को दिखाया तो असलियत सामने आने किशोरी ने आपबीती सुनाई।
पीड़िता ने थैले से सात माह का भ्रूण निकालकर एसएसपी को दिखाते हुए आरोप लगाया कि लिसाड़ी गेट पुलिस इस मामले में कार्यवाही नहीं कर रही है। एसएसपी ने किशोरी का मेडिकल करा आरोपियों के खिलाफ कड़ी कार्यवाही के आदेश दिए हैं।

Share it
Top