कर्नाटक विधानसभा में धनकुबेर विधायकों की बहुतायत, आपराधिक छवि वाले भाजपा के विधायकों की संख्या सबसे अधिक

कर्नाटक विधानसभा में धनकुबेर विधायकों की बहुतायत, आपराधिक छवि वाले भाजपा के विधायकों की संख्या सबसे अधिक

नयी दिल्ली। कर्नाटक विधानसभा के नवनिर्वाचित 222 विधायकों में से 54 ऐसे हैं जिनके खिलाफ हत्या का प्रयास और अपहरण जैसे संगीन मामले दर्ज हैं। कर्नाटक इलेक्शन वाच और एसोसिएशन फार डेमोक्रेटिक रिफार्म्स (एडीआर) ने राज्य विधानसभा के कल आये 222 सीटों में से 221 पर विजयी विधायकों के स्वयं दिए गए हलफनामों की जांच-पड़ताल की है। इन विधायकों में एक तिहाई से अधिक 77 विधायक ऐसे हैं जिनके खिलाफ आपराधिक मामले हैं। करीब एक चौथाई 54 विधायकों के खिलाफ हत्या के आरोप और अपहरण जैसे संगीन मामले हैं। राज्य विधानसभा में इस बार धनकुबेर विधायकों की बहुतायत है और 97 प्रतिशत अर्थात 215 विधायक करोड़पति हैं। विधायकों की औसत संपत्ति 34.59 करोड़ रुपए हैं। आपराधिक छवि वाले भाजपा के विधायकों की संख्या सबसे अधिक है। भाजपा के 103 विधायकों की जांच-पड़ताल में एडीआर ने पाया कि 41 प्रतिशत अर्थात 42 विधायक ऐसे हैं जिनके खिलाफ अपराधिक मामले दर्ज हैं। इस मामले में कांग्रेस दूसरे नंबर और जनता दल (सेक्युलर) तीसरे नंबर पर हैं।

कांग्रेस के 78 में 23 और जेडीएस के 37 में से 11 विधायक इस श्रेणी के हैं। भाजपा के 29, कांग्रेस के 17 और जेडीएस के आठ विधायकों के खिलाफ संगीन आपराधिक मुकदमे हैं। कांग्रेस के 11 और जनतादल एस के तीन भाजपा और केपीजेपी का एक-एक विधायक ऐसा है जिनकी संपत्ति 100 करोड़ रुपए से अधिक है। कांग्रेस के होसकोटे सीट से जीते एन नागाराजू की कुल संपत्ति 1015 करोड रुपए से अधिक है। पार्टी के ही कनकपुर से विजयी डी के शिवकुमार और हेब्बल से जीते सुरेश बी एस माथुर की कुल संपत्ति क्रमश 840 करोड़ और 416 करोड़ रुपए है। सबसे कम संपत्ति भाजपा के कृष्णाराज से जीते एस ए रामदास की है। उनके पास करीब 39 लाख रुपए की कुल संपत्ति है। जद एस के श्रीरंगपट्टम से विजयी ए एस रवीन्द्र और बहुजन समाज पार्टी (बीएसपी) के कोल्लेगल से जीते एन महेश कुल संपत्ति के मामले में क्रमश दूसरे और तीसरे स्थान पर हैं।

इनकी कुल संपत्ति क्रमश: 68 और 75 लाख रुपए हैं। कांग्रेस के कनकपुर से विजयी डी के शिवकुमार पर सर्वाधिक देनदारी है। उनके ऊपर 228 करोड़ रुपए से अधिक का कर्ज है जिसमें से पांच करोड़ रुपए से अधिक का विवादित है। कर्नाटक जदएस अध्यक्ष एच डी कुमारस्वामी के ऊपर 104 करोड़ रुपए से अधिक की देनदारी है। श्री कुमारस्वामी रामनगरम से विजयी हुए हैं। कांग्रेस के विजयनगर से जीते एम कृष्णाप्पा के ऊपर 66 करोड़ रुपए से अधिक का कर्ज है। सोलह विधायकों की उम्र 25 से 40 वर्ष 138 की 41 से 60 और 64 की 61 से 80 साल से ऊपर है। तीन विधायकों की उम्र 80 साल से अधिक है। इस बार कर्नाटक विधानसभा में सात महिलाएं जीतकर आई हैं। पिछली विधानसभा के 94 विधायक फिर से जीतकर आये हैं।


Share it
Top