जस्टिस अब्दुल नजीर को मिली धमकी...अयोध्या पर फैसला सुनाने वाली पीठ का हिस्सा रहे हैं जस्टिस नजीर

जस्टिस अब्दुल नजीर को मिली धमकी...अयोध्या पर फैसला सुनाने वाली पीठ का हिस्सा रहे हैं जस्टिस नजीर

नई दिल्ली। अयोध्या मामले पर सुनवाई करने वाले सुप्रीम कोर्ट के पांच जजों की संवैधानिक पीठ का हिस्सा रहे जस्टिस अब्दुल नजीर और उनके परिवार वालों को जेड श्रेणी की सुरक्षा दी गई है। पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया (पीएफआई) द्वारा धमकी दिए जाने के बाद केंद्र सरकार ने उनको ये सुरक्षा देने का एलान किया है। खुफिया एजेंसियों ने गृह मंत्रालय को बताया था कि जस्टिस नजीर की जान को पीएफआई और अन्य संगठनों से खतरा है, जिसके बाद गृह मंत्रालय ने केंद्रीय रिजर्व पुलिस फोर्स (सीआरपीएफ) और स्थानीय पुलिस को जस्टिस नजीर को सुरक्षा देने का आदेश दिया है। अधिकारियों ने बताया कि सुरक्षाबलों और पुलिस को आदेश दिया गया है कि तत्काल प्रभाव से जस्टिस नजीर और उनके परिवार को कर्नाटक और देश के अन्य हिस्सों में जेड श्रेणी की सुरक्षा प्रदान की जाए। जस्टिस नजीर जब बंगलूरू, मंगलुरू और राज्य के किसी भी हिस्से में सफर करेंगे तो उन्हें कर्नाटक कोटे से 'जेड' श्रेणी की सुरक्षा प्रदान की जाएगी। 'जेड' श्रेणी की सुरक्षा में अद्र्धसैनिक और पुलिस के करीब 22 जवान तैनात होते हैं। सरकार ने इससे पहले नौ नवंबर को फैसला आने से पहले मुख्य न्यायाधीश रंजन गोगोई को 'जेड प्लस' सुरक्षा दी थी।

Share it
Top