महाराष्ट्र में राष्ट्रपति शासन लोकतंत्र की हत्या : येचुरी

महाराष्ट्र में राष्ट्रपति शासन लोकतंत्र की हत्या : येचुरी


नई दिल्ली। मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी (माकपा) के महासचिव सीताराम येचुरी ने महाराष्ट्र में राष्ट्रपति शासन लगाने के फैसले को लोकतंत्र की हत्या करार दिया है। येचुरी ने एक बयान में कहा कि महाराष्ट्र के राज्यपाल ने राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (एनसीपी) को सरकार बनाने के संबंध में रात साढ़े आठ बजे तक का समय दिया था। इसके बावजूद, राज्य में राष्ट्रपति शासन लागू करने की सिफारिश की गई। उन्होंने कहा कि मोदी सरकार संघीय प्रणाली के सिद्धांतों पर लगातार हमले करती रही है। जम्मू कश्मीर, उत्तराखंड, गोवा, मणिपुर और अन्य राज्यों में जो किया गया उसी की पुनरावृत्ति महाराष्ट्र में की गई है।

माकपा महासचिव ने सुप्रीम कोर्ट के वर्ष 1984 में एसआर बोम्मई हमले में सुनाए गए फैसले का हवाला देते हुए कहा कि किसी सरकार को बहुमत हासिल है या नहीं इसका फैसला सदन में ही होना चाहिए।


Share it
Top