लुधियाना अस्पताल की नर्स निकली खालिस्तानी आतंकी, दो गिरफ्तार

लुधियाना अस्पताल की नर्स निकली खालिस्तानी आतंकी, दो गिरफ्तार


-साथी समेत किया गिरफ्तार, कई हिन्दू संगठनों के नेता थे निशाने पर

-जांच में खुलासा, टेरर फंडिंग से जुड़ा है पूरा मामला

चंडीगढ़। पंजाब पुलिस ने एक महिला समेत दो खालिस्तानी आतंकियों को गिरफ्तार किया है। आरोपितों की गिरफ्तारी को टेरर फंडिंग के साथ जोड़ा जा रहा है। आरोपित महिला लुधियाना के एक अस्पताल में नर्स की नौकरी कर रही थी। नर्सिंग की आड़ में वह खालिस्तानी गतिविधियों में भी लिप्त थी। दोनों के निशाने पर पंजाब के हिन्दू संगठनों के नेता थे और बहुत जल्द पाकिस्तानी एजेंसी से उनके पास ग्रेनेड व हथियार भेजे जाने थे।

पंजाब पुलिस के ऑपरेशन सेल ने 2 खालिस्तानी आतंकियों को गिरफ्तार किया, जिसमें एक महिला भी शामिल है। प्रारंभिक जांच में पता चला है कि उक्त महिला नर्स की नौकरी करते हुए अपने साथ कई अन्य महिलाओं को जोड़ने का काम कर रही थी जबकि उसका साथी गुरदासपुर से गिरफ्तार किया गया है।

आरोपित पुरुष दुबई में बतौर ड्राइवर काम कर चुका है। इन दिनों पंजाब आया हुआ था। गिरफ्तार की गई महिला की शिनाख्त सुरिंदर कौर के रूप में हुई है। आरोपित महिला फरीदकोट की रहने वाली है जो लुधियाना के एक निजी अस्पताल में बतौर नर्स काम करती थी। सुरिंदर कौर के साथी की पहचान लखबीर सिंह (23) के रूप में हुई है जो होशियारपुर का रहने वाला है और दुबई में बतौर ड्राइवर काम कर चुका है। दोनों व्हाट्सएप कॉल के जरिए एक-दूसरे से जुड़े हुए थे।

पूछताछ में पता चला है कि उनको जल्द ही पाकिस्तानी एजेंसी आईएसआई की मदद मिलने वाली थी। आईएसआई और विदेशों में बैठे खालिस्तानी आतंकियों के एक हैंड ग्रेनेड की खेप पंजाब में भेजी जानी थी। इस खेप को इन्हें पंजाब में एक्टिव खालिस्तानी आतंकियों और उनके स्लीपर सेलों को डिलीवर करना था। इन दोनों को विदेशों में बैठे खालिस्तानी आतंकियों द्वारा लगातार फंडिंग की जा रही थी। नर्सिंग के काम की आड़ में आतंकी गतिविधि सुरेंद्र कौर की उम्र 33 वर्ष है वो अविवाहित है। वह मूल रूप से पंजाब के फरीदकोट की रहने वाली है। इन दोनों की कॉल डिटेल और बैंक अकाउंट से पुलिस ने ट्रेस किया कि ये दोनों खालिस्तानी समर्थक आतंकी गतिविधियों में शामिल थे।


Share it
Top