रामपुर में तीन महिला बीएलओ गिरफ्तार, सपा प्रत्याशी तजीन फातिमा ने मतदाताओं पर दबाव बनाने का लगाया आरोप


लखनऊ। प्रदेश में विधानसभा की 11 सीटों पर निष्पक्ष और शांतिपूर्ण मतदान को लेकर चुनाव आयोग के निर्देश पर हर जगह प्रशासन बेहद सतर्कता बरत रहा है। फर्जी मतदान की कोशिश करने वालों सहित संदिग्धों पर कड़ी नजर रखी जा रही है। वहीं, सपा सांसद आजम खान की पत्नी और रामपुर सीट से सपा प्रत्याशी तजीन फातिमा ने जिला प्रशासन पर गंभीर आरोप गया है। सपा प्रत्याशी तजीन फातिमा ने आरोप लगाते हुए कहा, पुलिस काफी परेशान कर रही है, वहीं वोट डालने से लोगों को रोक रही है।'तजीन फातिमा आगे कहती हैं कि रामपुर में संविधान और लोकतंत्र की हत्या हो रही है।

रामपुर शहर विधानसभा क्षेत्र में तीन महिला बीएलओ सीमा राठौर, ताजिया और मुमताज को गिरफ्तार किया गया है। ये हादी जूनियल हाई स्कूल में बने मतदान केंद्र पर बीएलओ की ड्यूटी कर रही थीं। आरोप है कि ये बीएलओ मतदाताओं को सरकारी पर्ची बांटने के बजाय कच्ची पर्ची बांट रही थी जो पार्टी उम्मीदवार द्वारा दी जाती हैं।

जिलाधिकारी आन्जनेय कुमार सिंह ने बताया कि तीनों महिलाओं के खिलाफ कार्रवाई की जा रही है। इसके अलावा बीस मतदान अभिकर्ता भी हिरासत में लिए गए हैं। इनसे पूछताछ की जा रही है। ये अभिकर्ता स्वतंत्र उम्मीदवार जावेद द्वारा बनाए गए थे, लेकिन इनका जावेद से सम्बन्ध नहीं है और ये समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ता हैं। इसी तरह कांग्रेस उम्मीदवार का भी एक ऐसा एजेंट पकड़ा गया है।

इसी तरह रामपुर में रजा डिग्री कॉलेज में मतदान केंद्र से पुलिस अधीक्षक अजय पाल शर्मा ने एक फर्जी पोलिंग एजेंट को हिरासत में लिया है। वह अपना आईडी प्रूफ नहीं दिखा पाया। जिलाधिकारी ने बताया कि दो संदिग्ध लोग बूथ के पास पकड़े गए हैं। जिनसे पूछताछ जारी है। उनके खिलाफ कार्रवाई की जा रही है। शहजादनगर और सिविल लाइन्स थाना पुलिस ने भी सात लोगों को मतदान में गड़बड़ी करने के आरोप में हिरासत में लिया है।

रामपुर के बाकर इंटर कॉलेज के बूथ पर तैनात बीएलओ तब भड़क गईं, जब वहां पहुंचे भाजपा उम्मीदवार भारत भूषण गुप्ता ने उन्हें वोटर पर्ची न बांटने को लेकर हड़का दिया। उम्मीदवार के जाने के बाद बीएलओ ने हंगामा किया। उन्होंने भाजपा उम्मीदवार पर अभद्र व्यवहार का आरोप लगाया।

इसके अलावा अलीगढ़ के इगलास में छह से अधिक गांवों के लोग विकास कार्य नहीं होने का आरोप लगाते हुए चुनाव बहिष्कार पर अड़े हुए हैं। इनमें उडम्बरा गोंडोली, धारा की गड़ी, मनोहरपुर आदि गांव शामिल हैं। ब्लॉक गौंडा के गांव माती में आवारा पशुओं की समस्या के चलते ग्रामीणों ने मतदान बहिष्कार की बात कही। अधिकारी मौके पर पहुंचकर उनको समझाने की कोशिश में लगे हैं।

मानिकपुर विधानसभा सीट पर के राजापुर से सटे बूथ संख्या 17 सोती पुरवा मजरा पराको में मतदान के दौरान प्रधानपति भगवानदास सोनकर ने मतदान डालते समय ईवीएम की तस्वीर ली। इसमें एक पार्टी का बटन दबाते हुए तस्वीर आई है। प्रधानपति ने सोशल मीडिया में स्वयं फोटो भी वायरल की। इसको संज्ञान में लेते हुए पुलिस अधीक्षक ने थाना पुलिस को एफआईआर दर्ज का आदेश दिया है।

इस बीच समाजवादी पार्टी ने 39 प्रतापगढ़ विधानसभा की बूथ संख्या 113 पर भाजपा कार्यकर्ताओं द्वारा मतदाताओं पर दबाव बनाकर मतदान प्रभावित करने का प्रयास करने का आरोप लगाया है। पार्टी की ओर से कहा गया है कि यह सब प्रशासन के सामने हो रहा है। पार्टी ने चुनाव आयोग से मामला संज्ञान में लेते हुए निष्पक्ष मतदान सुनिश्चित करने की अपील की है।

इसके अलावा 354 घोसी विधानसभा उपचुनाव मतदान के दौरान बड़ी संख्या में ईवीएम खराब होने और प्रशासन द्वारा भाजपा उम्मीदवार के पक्ष में मनमानी का भी आरोप लगाया है। पार्टी समर्थित उम्मीदवार सुधार सिंह ने इस मनमानी के विरोध में मुख्य निर्वाचन अधिकारी से शिकायत की है। वहीं 280 जलालपुर विधानसभा की बूथ संख्या 220 पर ईवीएम और 237 मानिकपुर विधानसभा के बूथ संख्या 212 पर वीवीपेट के काम नहीं करने की शिकायत भी आयोग से की गई है, जिससे मतदान सुचारू हो सके।


Share it
Top