अयोध्या में राम मंदिर जल्द, अब केंद सरकार मथुरा और काशी के लिए आगे बढ़े : सुब्रमण्यम स्वामी

अयोध्या में राम मंदिर जल्द, अब केंद सरकार मथुरा और काशी के लिए आगे बढ़े : सुब्रमण्यम स्वामी


शिमला। पूर्व केंद्रीय मंत्री एवं सांसद डॉ सुब्रमण्यम स्वामी ने कहा है कि अध्योध्या में शीघ्र श्रीराम मंदिर निर्माण की संभावना बढ़ गई है। सुप्रीम कोर्ट की तरफ से श्रीराम मंदिर को लेकर निर्णय आने के बाद अब केंद्र सरकार को मथुरा में श्रीकृष्ण जन्मभूमि व काशी विश्वनाथ मंदिर में जमीन का अधिग्रहण करके मंदिर का निर्माण का रास्ता प्रशस्त करना चाहिए। उन्होंने दोनों स्थानों पर जमीन का अधिग्रहण करके मुस्लिम पक्ष को इसका उचित मुआवजा देने की मांग भी की। उन्होंने कहा कि यदि इस दिशा में निर्णय नहीं लिया गया, तो वह आंदोलन का रास्ता अपनाएगें। डॉ स्वामी विराट हिंदोस्तान संगम प्रदेश कार्यकारिणी का गठन करने के बाद यहां पत्रकार वार्ता को संबोधित कर रहे थे।

डॉ स्वामी ने कहा कि केंद्र सरकार को सेठों को रियायतें देने के अलावा आम आदमी को राहत देनी चाहिए। इसी तरह बैंकों में ब्याज दर को बढ़ाया जाना चाहिए ताकि लोग अधिक धन जमा करवाने के लिए आगे आए और लोगों को दिए जाने वाले ऋण की ब्याज दर को कम करना चाहिए। उन्होंने कहा कि वह सेठों को आयकर में छूट देने के विरोधी नहीं है लेकिन आम आदमी के हाथ तक अधिक पैसा पहुंचाने की दिशा में प्रयास किए जाने चाहिए। उन्होंने जीएसटी को लागू करने के निर्णय को पागलपन जैसा बताया और इसे हटाए जाने की वकालत की। पूर्व प्रधानमंत्री डॉ मनमोहन सिंह का नाम लिए बिना उन्होंने उन्हें दब्बू पीएम कहा पर उनके आर्थिक सुधारों की अप्रत्यक्ष तौर पर सराहना भी की। उन्होंने कहा कि आर्थिक सुधारों को लेकर उनकी तरफ से एक पुस्तक लिखी गई है, जिसे प्रधानमंत्री को भी प्रदान किया गया है।

सुब्रमण्यम स्वामी ने महात्मा गांधी हत्या मामले का फिर से विश्लेषण किए जाने का आग्रह किया। उन्होंने कहा कि महात्मा गांधी की हत्या से सबसे अधिक लाभ पं. जवाहर लाल नेहरू को हुआ, पर इसका अर्थ यह नहीं की वह नेहरू पर उनको किसी तरह का संदेह है। उन्होंने कहा कि महात्मा गांधी की हत्या के विश्लेषण से यह पूरी तरह से प्रमाणित हो सकेगा कि नाथू राम गोडसे की ही गोली से हत्या हुई। उन्होंने महात्मा गांधी का हत्या के बाद पोस्टमार्टम न करने, गोली चलाने के बाद उनके जिंदा रहने तक अस्पताल न पहुंचाने और कितनी बार गोली चली इसको लेकर भ्रम होने जैसे सवालों को उठाया।

पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की तरफ से आर्थिक सुधारों को लेकर दिए गए सुझाव को लेकर पूछे प्रश्न के उत्तर में डॉ सुब्रमण्यम स्वामी ने कहा कि क्लू लैस है। ऐसे में उनकी तरफ से आर्थिक सुझावों का लेकर दिए गए बयान का कोई अर्थ नहीं रह जाता। उन्होंने यह भी कहा कि भाजपा लोकतांत्रिक पार्टी और यहां पर सबको अपने विचार व्यक्त करने का पूरा अधिकार है। उन्होंने कहा कि आंतकवाद के खात्मे के लिए चीन को भारत के साथ हाथ मिलाना चाहिए। उन्होंने कहा कि आतंकवाद पूरे विश्व के लिए खतरा है और इस दिशा में मिलकर काम होना चाहिए। उन्होंने कहा कि पाकिस्तान आतंकवाद को संरक्षण प्रदान करता रहा है और ऐसे में किसी देश को उसका साथ नहीं देना चाहिए।


Share it
Top