दीपावली से पहले राज्य कर्मचारियों को दिया तोहफा...एक जुलाई से लागू होगा बढा हुआ महंगाई भत्ता

दीपावली से पहले राज्य कर्मचारियों को दिया तोहफा...एक जुलाई से लागू होगा बढा हुआ महंगाई भत्ता

लखनऊ। प्रदेश के लाखों राज्य कर्मचारियों पर योगी आदित्यनाथ की सरकार मेरहबान है। दीपावली से पहले इन पर तोहफों की बौछार हो रही है। त्यौहार से पहले वेतन, फिर बोनस और अब डीए (महंगाई भत्ता) देने की घोषणा ने 18 लाख कर्मचारियों की झोली खुशियों से भर दी है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यानाथ के निर्देशानुसार राज्य कर्मियों का डीए 12 प्रतिशत से बढ़ाकर 17 प्रतिशत कर दिया गया है। यह एक जुलाई से लागू होगा। केंद्र की तरह राज्य कर्मचारियों को भी दीवाली से पहले महंगाई भत्ते का तोहफा मिल गया है। इसके साथ ही राज्य सरकार दीवाली से पहले कर्मचारियों को इस माह से सैलरी और बोनस भी दे रही। अब राज्य कर्मचारियों को बीती जुलाई से 17 प्रतिशत की दर से महंगाई भत्ते के भुगतान का शासनादेश जारी कर दिया गया है। अभी तक 12 प्रतिशत की दर से महंगाई भत्ता दिया जा रहा था। राज्य सरकार हर महीने पहली तारीख को वेतन देती है, लेकिन इस बार 27 अक्टूबर को दीवाली होने के कारण राज्य कर्मचारी पर्व से पहले वेतन की मांग कर रहे थे। राज्य सरकार ने मांग स्वीकार करते हुए प्रदेश के करीब 2० लाख सेवारत व सेवानिवृत्त कार्मिकों को तोहफा दिया है। वेतन व पेंशन का भुगतान 25 अक्टूबर को कर दिया जाएगा। इसके अलावा हर साल मिलने वाला बोनस भी कर्मचारियों को दीवाली से पहले मिल जाएगा। केंद्र सरकार द्वारा महंगाई भत्ता बढ़ाए जाने की घोषणा के बाद उत्तर प्रदेश में भी इसकी तैयारी शुरू हो गई थी। केंद्र सरकार ने केंद्रीय कर्मचारियों के लिए बीते जुलाई माह से पांच फीसदी महंगाई भत्ता मंजूर किया है। केंद्रीय कैबिनेट का यह एलान बुधवार (नौ अक्टूबर) को राज्य कर्मचारियों के बीच पहुंचते ही हलचल मच गई थी। सचिवालय संघ ने राज्य कर्मचारियों के लिए भी महंगाई भत्ते का आदेश तत्काल जारी किए जाने की मांग की थी। अधिकारियों के मुताबिक कर्मचारियों को महंगाई भत्ता देने पर सरकार के खजाने पर दो हजार करोड़ रुपये से अधिक का भार आएगा।

Share it
Top