पांच लाख दीयों से जगमग होगी रामजी की अयोध्या...सीएम योगी आदित्यनाथ का यह लक्ष्य पूरा होते ही बन जायेगा विश्व रिकार्ड

पांच लाख दीयों से जगमग होगी रामजी की अयोध्या...सीएम योगी आदित्यनाथ का यह लक्ष्य पूरा होते ही बन जायेगा विश्व रिकार्ड

अयोध्या। मर्यादा पुरूषोत्तम भगवान राम की जन्मस्थली अयोध्या को दीपोत्सव के अवसर पर पांच लाख दीयों से रोशन किया जायेगा।

सूबे के मुख्य सचिव आर.के. तिवारी ने मंगलवार को कहा कि अयोध्या में इस बार दीपोत्सव ऐतिहासिक होगा, जिसमें साढ़े पाँच लाख दीपक जलाये जाने का लक्ष्य उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने रखा है, जो अपने आप में एक विश्व रिकार्ड होगा। पूरी अयोध्या दीपों से जगमगायेगी। यहां का प्रकाश पूरे विश्व में जायेगा। मुख्यमंत्री की इच्छा है कि उत्सव में सभी जन भागीदार बनें और दिये जलायें। उन्होंने कहा कि दीपावली एक धार्मिक उत्सव है। भगवान राम पूरी दुनिया के हैं और हम सभी के आराध्य भी हैं। सरकार, शासन एवं मुख्यमंत्री की नीति है कि अयोध्या विश्व में एक सबसे अच्छे तीर्थ और पर्यटन स्थल के रूप में विकसित हो। यह श्रद्धा व दुनिया का लोकप्रिय स्थल बने यही हम सभी का प्रयास है। अयोध्या में दीपोत्सव को लेकर सारी तैयारियां बहुत तेजी से चल रही हैं। काम लगातार चल रहा है और दीपोत्सव के पहले-पहले पूरा हो भी जायेगा। प्रमुख सचिव ने कहा कि दीपक केवल सरकार एवं पर्यटन विभाग के माध्यम से ही नहीं जलाये जायेंगे, बल्कि उसमें जन-जन की भागीदारी होगी यह हमारा लक्ष्य है कि इस बार दीपोत्सव में दो लाख दीपक केवल जनता द्वारा जलाया जाय। उन्होंने बताया कि विद्यालय, सरकारी भवन, प्राइवेट भवनों, घरों आदि सभी जगहों पर दीपक जले जिससे पूरा अयोध्या जनपद दीपमय हो जाय इस बार का यही प्रयास है। संत-धर्माचार्य के संत आयोजित बैठक को उत्तर प्रदेश के पुलिस महानिदेशक ओ.पी. सिंह ने कहा कि दीपोत्सव के लिये सुरक्षा चाक चौबंद व्यवस्था रहेगी। अयोध्या हमेशा हाईअलर्ट जोन रहा है। सरकार प्रत्येक दशा में हर जगह सुरक्षा करने के लिय दृढ़संकल्पित है। पूरी सुरक्षा व्यवस्था हर जगह रहेगी। दीपोत्सव के दिन अयोध्या नदी, जमीन और वायु के ऊपर हम सब नजर रखेंगे, ताकि कोई असामाजिक तत्व इसमें कोई विघ्न ना पैदा कर सके। उन्होंने बताया कि सुरक्षा की व्यवस्था बहुत ही व्यापक रहेगी, जिसमें पैरामिलेट्री फोर्स पीएसी बल, जलपुलिस आदि लगायी जायेंगी। उन्होंने कहा कि थानों को भी दीपोत्सव से जोड़ा जायेगा। इस दिन पुलिस के लोग थानों के प्रांगण में दीप जलायें जिससे महोत्सव को नागरिक आंदोलन बना सकें। बैठक को श्रीरामजन्मभूमि न्यास के अध्यक्ष मणिराम दास छावनी के महंत नृत्यगोपाल दास के उत्तराधिकारी महंत कमलनयन दास शास्त्री ने कहा कि अयोध्या के विकास में योगी का अहम् योगदान रहा है। उनका सारा कार्य भगवान राम के लिये है। उन्होंने बैठक को सम्बोधित करते हुए कहा कि अयोध्या की सभी गलियों में सर्वत्र दीपोत्सव मनाया जाय। उन्होंने कहा कि अयोध्या में चल रहे विकास कार्यों की गुणवत्ता पर शासन-प्रशासन ध्यान दे साथ ही पावन सरयू में गिर रहे गंदे नालों को तत्काल बंद किया जाय जिससे नदी की स्वच्छता बराबर बनी रहे। संत-धर्माचार्यों के संग आयोजित इस बैठक में श्रीराम जन्मभूमि न्यास के वरिष्ठ सदस्य एवं दिगम्बर अखाड़ा के महंत सुरेश दास ने कहा कि कभी त्यौहारों पर संतों की सभा नहीं बुलायी जाती थी लेकिन इस बार दीपोत्सव को लेकर संत-धर्माचार्यों के संग प्रदेश शासन के अधिकारियों द्वारा सभा बुलायी गयी है।

Share it
Top