लखनऊ में डेंगू का प्रकोप, आईएएस नवनीत सहगल समेत कई आए बीमारी की चपेट में

लखनऊ। जनवरी 2019 से लेकर अब तक उत्तर प्रदेश में डेंगू के 400 से भी ज्यादा मरीज पाए गए हैं। संचारी रोग नियंत्रण अभियान भी डेंगू पर अंकुश लगा पाने में असमर्थ है। राजधानी लखनऊ में ही आईएएस नवनीत सहगल समेत 18 लोगों में डेंगू की पुष्टि हुई। साथ ही डेंगू से पीड़ित नौ वर्षीय बच्ची की मौत हो गई। इसके अलावा मलिहाबाद के कई गांव में बुखार का प्रकोप फैला है। ललितपुर में भी डेंगू के 30 मरीज मिलने से स्वास्थ्य महिकमे में हड़कंप मच गया है।

वहीं प्रमुख सचिव खादी उद्योग नवनीत सहगल की तबियत बिगड़ गई है। उन्हें केजीएमयू लाया गया। यहां जांच कराई तो डेंगू की पुष्टि हुई। वहीं प्लेटलेट्स 10 हजार निकली। ऐसे में शताब्दी स्थित आरआइसीयू में उन्हें भर्ती किया गया। वहीं प्लेटलेट्स बढ़ाने के लिए सिंगल डोनर प्लेटलेट्स (एसडीपी) विधि अपनाई गई। इसमें व्यक्ति के खून से सीधे प्लेटलेट्स निकालकर मरीज को चढ़ाया गया। शाम को हालत में सुधार आया। इसके अलावा केशवनगर निवासी नौ वर्षीय सारिका कनौजिया की डेंगू से मौत हो गई। उसका निजी अस्पताल में इलाज चल रहा था।

लखनऊ की तरह ललितपुर में भी डेंगू का प्रकोप जारी है। यहां सितम्बर तक डेंगू के मरीजों की संख्या दो थी। अक्बूटर तक यह संख्या 30 हो गई। मरीजों की बढ़ रही संख्या से स्वास्थ्य विभाग में खलबली मच गई है।

Share it
Top