महिला जिला पंचायत सदस्य ने देवबंद विधायक कुंवर ब्रिजेश के आवास पर किया आत्मदाह का प्रयास...मुंह में मिट्टी तेल चला जाने के कारण हालत बिगडी

देवबंद। देवबंद में शनिवार सुबह जिला पंचायत सदस्य शशि त्यागी अपनी पहले से ही दी गई चेतावनी के मुताबिक पुलिस को चकमा देते हुए देवबंद विधायक कुंवर ब्रजेश सिंह के आवास पर पहुंच गई और अपने ऊपर मिट्टी तेल छिड़ककर आत्मदाह करने लगी। भनक लगते ही किसी तरह पुलिस, भाजपाईयों और वहां मौजूद अन्य लोगों ने किसी तरह शशि त्यागी को रोका और माचिस उनसे छीन ली। इस दौरान शशि त्यागी बेहोश हो गई। हालत बिगडऩे पर उन्हें तुरंत देवबंद अस्पताल भर्ती कराया गया। जहांं से उन्हें जिला अस्पताल रैफर किया गया। जानकारी के अनुसार शशि त्यागी के मुंह में मिट्टी तेल चला जाने के कारण उनकी हालत बिगडी है। ध्यान रहे जिला पंचायत सदस्य शशि त्यागी ने शुक्रवार को ही चेतावनी दी थी कि वह देवबंद विधायक कुंवर ब्रिजेश के घर पहुंचकर आत्मदाह करेंगी। इस चेतावनी के बाद देवबंद और सहारनपुुर पुलिस प्रशासन सतर्क हो गया था और सुबह से ही पुलिस की टीम शशि त्यागी के आवास पर पहुंच गई थी। पुलिस-प्रशासन के अधिकारी शशि त्यागी को मनाने में लगे थे। शशि त्यागी ने पुलिस अधिकारियों और अन्य नेताओं व लोगों को ड्राइंग रूम में बैठा लिया। शशि त्यागी चाय बनाने के बहाने पुलिस अफसरों को अपने ड्राइंग रूम में बैठाकर छत के रास्ते विधायक के आवास पर पहुंच गई। पुलिस अफसर इनके घर पर बैठे रहे और जिला पंचायत सदस्य छत के रास्ते होकर देवबंद विधायक कुंवर ब्रिजेश के आवास (कार्यालय) पहुंच गई। जब ड्राइंग रूम में बैठे अफसरों को पता चला कि शशि घर में मौजूद नहीं हैं तो हड़कंप मच गया। आनन-फानन में सभी पुलिस और प्रशासनिक अधिकारी विधायक के घर की ओर दौड़ पड़े। यहां भी शशि ने पुलिस को चकमा दे दिया और वह सीधे विधायक कार्यालय जा पहुंची। यहां जिला पंचायत सदस्य ने खुद पर मिट्टी का तेल उडेल लिया और आत्मदाह का प्रयास करने लगी। गनीमत रही कि इससे पहले यहां पुलिस और प्रशासनिक अफसर पहुंच गए और शशि त्यागी को बचा लिया। इस दौरान शशि त्यागी की हालत बिगड़ गई और वह बेहोश हो गई। इसके बाद आनन-फानन में उन्हें अस्पताल ले जाया गया। जहां हालत बिगड़ती देख चिकित्सकों ने हायर सेंटर रैफर कर दिया। शशि त्यागी ने शुक्रवार को एक प्रेस कांफ्रेंस में पत्रकारो से कहा था कि देवबंद विधायक उनके परिवार वालो पर फर्जी मुकदमें दर्ज करा रहे हैं। इसी से क्षुब्ध होकर वह आत्मदाह करेंगी। पहले से चेतावनी देने के बाद भी पुलिस उन्हे रोक नहीं पाई। उधर इस मामले में विधायक कुंवर ब्रिजेश का कहना है कि उन पर लगाए जा रहे आरोप पूरी तरह से निराधार हैं।

Share it
Top