मुख्यमंत्री ने प्रयागराज की बाढ़ का किया हवाई सर्वेक्षण, बांटी राहत सामग्री

मुख्यमंत्री ने प्रयागराज की बाढ़ का किया हवाई सर्वेक्षण, बांटी राहत सामग्री



प्रयागराज। मुख्यमंत्री ने आदित्यनाथ ने शुक्रवार को प्रयागराज पहुंचकर बाढ़ का निरीक्षण करने के बाद बाढ़ राहत शिविर में पीड़ितों को राहत सामग्री वितरित की।

मुख्यमंत्री आदित्यनाथ शुक्रवार को अपराह्न एक बजे हवाई सर्वेक्षण करते हुए प्रयागराज सर्किट हाउस पहुंचे। इसके बाद 1.10 पर कैण्ट इलाहाबाद स्कूल में बने बाढ़ राहत शिविर में पीड़ितों का हाल-चाल लेने पहुंच गए, जहां उन्होंने पीड़ितों से जानकारी ली।

इस दौरान प्रशासन ने पूरी व्यवस्था चुस्त-दुरुस्त कर रखी थी। उन्होंने पीड़ितों को राहत सामग्री बांटी और मात्र दस मिनट मंच पर रहने के बाद वहां से बिना कुछ संबोधित किए प्रस्थान कर गए।

बीच में उन्होंने मीडिया से कहा कि बाढ़ से कई जिले प्रभावित हैं और सम्भव है कि शाम तक जलस्तर में कमी आएगी। उन्होंने कहा कि प्रयागराज, इटावा, गाजीपुर, बलिया, हमीरपुर, बांदा सहित कई जिलों में भारी क्षति हुई है। इससे निपटने के लिए बाढ़ राहत शिविरों में पीड़ितों के लिए व्यवस्थाएं की गई हैं।

इस अवसर पर मुख्यमंत्री के साथ सांसद केसरी देवी पटेल एवं डाॅ रीता बहुगुणा जोशी, विधायक हर्षवर्धन बाजपेयी, सिद्धार्थ नाथ सिंह, रेखा सिंह, अशोक सिंह, भाजपा जिलाध्यक्ष अवधेश गुप्ता, कमलेश कुमार, मण्डलायुक्त डाॅ आशीष कुमार गोयल, जिलाधिकारी भानुचंद्र गोस्वामी, आईजी व डीआईजी सहित कई लोग उपस्थित रहे।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के लिए मंच बना हुआ था लेकिन पीड़ितों को कड़ी धूप में बैठाया गया था। इसके कारण मुख्यमंत्री के आने के पूर्व दो लोग बेहोश हो गए, जिन्हें तत्काल वहां से हटाकर उनका इलाज किया गया। संभवतः धूप में बैठे पीड़ितों को देखकर ही मुख्यमंत्री दस मिनट बाद मंच से उतर कर मम्फोर्डगंज में बने राहत शिविर का जायजा लेने निकल गए।

Share it
Top