जिस तरह मोदी को आशीर्वाद दिया, उसी तरह रघुवर दास को सीएम के रूप में आशीर्वाद देंः अमित शाह

जिस तरह मोदी को आशीर्वाद दिया, उसी तरह रघुवर दास को सीएम के रूप में आशीर्वाद देंः अमित शाह


अमित शाह ने हरी झंडी दिखाकर जोहार जन आशीर्वाद यात्रा का शुभारंभ किया

जामताड़ा। भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष व केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने झारखंड के जामताड़ा स्थित बेना काली मंदिर मैदान में बुधवार को जोहार जन आशीर्वाद यात्रा का शुभारंभ किया। इस मौके पर शाह ने झारखंड के अगले मुख्यमंत्री के रूप में प्रोजेक्ट करते हुए कहा कि आने वाले समय में संथाल परगना की सभी 18 विधानसभा सीटों पर भाजपा को भारी बहुमत से जीताने की अपील करते हुए कहा कि जिस तरह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को आशीर्वाद दिया था, उसी तरह रघुवर दास को सीएम के रूप में आशीर्वाद दें।

2014 से झारखंड में स्थायी सरकार होने के कारण पांच वर्षों के कार्यकाल में मुख्यमंत्री रघुवर दास के नेतृत्व में अनेक विकास कार्य हुए हैं। वहीं केन्द्र सरकार ने अपने 100 दिनों के कार्यकाल में देश के करोड़ों लोगों की इच्छा और भाजपा ने अपने संकल्प को पूर्ण करते हुए प्रधानमंत्री मोदी के नेतृत्व में अनुच्छेद 370 एवं 35ए हटाने का कार्य किया है। जब सांसद ने कश्मीर से घारा 370 एवं 35ए हटाया गया तो कांग्रेस एवं झामुमो ने इसका विरोध किया। अतः आप लोगों को पूछना चाहिए कांग्रेस ने खिलाफ क्यों किया। यहां के लोगों को तय करना है कि 370 और 35ए हटाने वालों के साथ रहना है या विरोध करने वाले कांग्रेस एवं झामुमो के साथ।

मुख्यमंत्री रघुवर दास ने अपने संबोधन में कहा कि संथाल परगना से सोरेन परिवार को साफ करना है। आज फिर एक बार ठग बंधन वालों ने लूट गठबंधन कांग्रेस एवं अन्य दलों के साथ मिलकर बनाना प्रारंभ कर दिया है। अपने कार्यकाल में जामताड़ा जिला में 300 किमी सड़क और संथालपरगना के साहेबगंज को बंदरगाह से जोड़ने की बात कही। कार्यक्रम को केंद्रीय मंत्री अर्जुन मुंडा, झारखंड बीजेपी के प्रभारी ओमप्रकाश माथुर, सह प्रभारी नंदकिशोर यादव, केंद्रीय एसटी मोर्चा के अध्यक्ष रामविचार नेताम, सांसद सुनील सोरेन और निशिकांत दुबे सहित अन्य ने संबोधित किया।

सात दिनों में 581 किमी की यात्रा करेंगे मुख्यमंत्री रघुवर दास

जामताड़ा से शुरू हुई जोहार जन आशीर्वाद यात्रा के दौरान मुख्यमंत्री रघुवर दास संथाल परगना के 18 विधानसभा क्षेत्रों में 581 किलोमीटर की यात्रा करेंगे। 19 से 24 सितंबर तक यात्रा के दौरान संथाल परगना के सभी छह जिलों में जगह-जगह जनसभा के माध्यम से लोगों को संबोधित करेंगे।


Share it
Top