सारदा चिटफंड घोटाला: राजीव कुमार की गिरफ्तारी की कोशिशों के बीच दिल्ली से कोलकाता पहुंचे सीबीआई के तीन वरिष्ठ अधिकारी

सारदा चिटफंड घोटाला: राजीव कुमार की गिरफ्तारी की कोशिशों के बीच दिल्ली से कोलकाता पहुंचे सीबीआई के तीन वरिष्ठ अधिकारी


कोलकाता। हजारों करोड़ रुपये के सारदा चिटफंड घोटाला मामले में साक्ष्यों को मिटाने के आरोपित कोलकाता पुलिस के पूर्व आयुक्त राजीव कुमार की गिरफ्तारी की कोशिशों के बीच बुधवार को केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो (सीबीआई) की एक विशेष टीम दिल्ली से कोलकाता पहुंची है। इस टीम ने सीबीआई के तीन वरिष्ठ अधिकारी शामिल हैं। दोपहर के समय ये लोग कोलकाता के नेताजी सुभाष चंद्र बोस अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर उतरे। वहां से सीधे सॉल्टलेक के सीजीओ कॉम्प्लेक्स स्थित जांच एजेंसी के पूर्वी क्षेत्रीय मुख्यालय में पहुंचे हैं। खबर है कि इसमें डिप्टी एसपी रैंक के अधिकारी भी हैं।

दरअसल राजीव कुमार से पूछताछ के लिए पहले ही संयुक्त निदेशक रैंक के एक अधिकारी कोलकाता में आ पहुंचे थे। अब तीन अन्य अधिकारियों के पहुंचने से दिल्ली से आए अधिकारियों की संख्या बढ़कर चार हो गई है। जांच एजेंसी के सूत्रों के हवाले से बताया गया है कि इस सप्ताह हर हाल में राजीव कुमार की गिरफ्तारी की कोशिश की जाएगी। मंगलवार को कुमार ने बारासात की विशेष सीबीआई अदालत और बारासात जिला कोर्ट में अपने लिए अग्रिम जमानत लेने की भरपूर कोशिश की थी लेकिन कोर्ट ने उन्हें जमानत देने से इनकार कर दिया था। उन्हें अलीपुर कोर्ट में जाकर जमानत के लिए याचिका लगाने की सलाह दी गई थी। खबर है कि कुमार अपनी अग्रिम जमानत के लिए अलीपुर कोर्ट का रुख कर सकते हैं। वहां भी सीबीआई उनकी गिरफ्तारी की मांग करेगी। इस बीच जांच एजेंसी के तीन वरिष्ठ अधिकारियों का कोलकाता पहुंचना, एजेंसी की ओर से सख्ती बरते जाने का संकेत हैं।

इधर जांच टीम ने राज्य सचिवालय में चिट्ठी देकर यह जानना चाहा है कि आखिर राजीव कुमार कहां हैं। सचिवालय की ओर से जांच एजेंसी को जो जवाब दिया गया है उसमें कहा गया है कि कुमार छुट्टी पर हैं। हालांकि उनकी वर्तमान स्थिति का पता नहीं है। वैसे गत शुक्रवार को जब से कलकत्ता उच्च न्यायालय ने राजीव कुमार की गिरफ्तारी पर लगी रोक को हटाया है, उसके बाद से लेकर आज तक कुमार कहां है इस बारे में सीबीआई को पता नहीं चल सका है।

Share it
Top