सैफई मैडिकल यूनीवर्सिटी में रैगिंग का मामला...कुलपति ने जताई अपनी हत्या की आशंका

सैफई मैडिकल यूनीवर्सिटी में रैगिंग का मामला...कुलपति ने जताई अपनी हत्या की आशंका

इटावा। कथित रैगिंग को लेकर सुर्खियों के बीच उत्तर प्रदेश के इटावा के सैफई मैडिकल यूनिवर्सिटी के कुलपति (वाइस चांसलर) प्रोफेसर राजकुमार ने अपनी हत्या की आंशका जताई है। श्री राजकुमार ने बृहस्पतिवार को यहां संवाददताओं से कहा कि सैफई मैडिकल यूनीवर्सिटी में सक्रिय माफियाओं की ओर से उन्हें लगातार धमकियां मिल रही है। उन्होंने दावा किया कि पिछले दिनों मिली धमकी के बाद पुलिसिया पड़ताल में यह बात सामने आई कि पश्चिमी उत्तर प्रदेश के शूटरों को यहां के माफियाओ ने सुपारी दी हुई है। इस जानकारी सामने आने के बाद उन्होंने विभिन्न स्तर पर अपनी सुरक्षा बढाई है। उनका आरोप है कि धमकी के पीछे कुछ डाक्टरों और ठेकेदार माफियाओं की भूमिका है। इस बाबत करीब छह माह पहले सैफई थाने में इस बाबत मुकदमा भी दर्ज कराया गया था, लेकिन अभी तक पुलिस इसकी जांच ही कर रही है। प्रो. राजकुमार ने बताया कि मेडिकल यूनिवर्सिटी के माफिया एवं दलालों की ओर से लगातार धमकियां दी जा रही हैं लेकिन वह उन से डरने वाले नहीं हैं वह कैंपस की पुरानी गंदगी को साफ करके रहेंगे। कुलपति का कहना है कि चाहे जो कीमत चुकानी पड़े, लेकिन वो अपने निर्णय से पीछे हटने वाले नहीं है। गौरतलब है कि प्रो. राजकुमार ने जून 2018 को सैफई मेडिकल यूनिवर्सिटी के कुलपति का कार्यभार ग्रहण किया था। उसके बाद से वे वहां की तमाम व्यवस्थाओं को बदलने में लगे हैं। बदलाव के कारण वर्षों से जमे हुए लोगों को उनके फैसले रास नहीं आ रहे हैं। उनका साफ तौर पर कहना है कि तमाम ठेकों में गड़बडिय़ां चल रहीं थी, भ्रष्टाचार चरम पर था, जिसे बदलना जरूरी था।

Share it
Top