भाजपा ने किया पूर्ण बहुमत का दावा...चुनाव के बाद नये दलों को साथ लेने को तैयार

भाजपा ने किया पूर्ण बहुमत का दावा...चुनाव के बाद नये दलों को साथ लेने को तैयार

नई दिल्ली। पूर्ण बहुमत के साथ केंद्र में फिर से सरकार बनाने का दावा करने के साथ ही भारतीय जनता पार्टी ने साफ कहा है कि वह चुनाव के बाद नये दलों को साथ लेने को तैयार है। भारतीय जनता पार्टी के अध्यक्ष अमित शाह ने गुरुवार को पार्टी मुख्यालय में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की मौजूदगी में दावा किया कि इन चुनावों में उनकी पार्टी को न केवल स्पष्ट बहुमत मिलेगा, बल्कि 3०० से अधिक सीटें मिलेंगी और राजग की सरकार बनेगी तथा श्री मोदी फिर से प्रधानमंत्री बनेंगे। एक प्रश्न के उत्तर में उन्होंने कहा कि यदि कोई अन्य दल उनके साथ जुडऩा चाहता हैं, तो उसके लिए दरवाजे खुले हुये हैं। लोकसभा चुनाव के अंतिम चरण का प्रचार समाप्त होने से पहले आयोजित संवाददाता सम्मेलन में श्री शाह ने कहा कि यदि कोई दल गठबंधन से जुडऩा चाहेगा तो उसका स्वागत है। पार्टी का चुनाव पूर्व गठबंधन है, लेकिन बाद में भी यदि कोई आना चाहे तो उसके लिए भी दरवाजे खुले हैं। इस चुनाव में किसी भी दल को स्पष्ट बहुमत नहीं मिलने की अटकलों के मद्देनजर श्री शाह की इस टिप्पणी को महत्वपूर्ण माना जा रहा है। उन्होंने कहा कि पिछली बार जनता ने भाजपा को ऐतिहासिक जनादेश दिया था, लंबे समय के बाद पहली बार पूर्ण बहुमत की सरकार बनी थी। जनता ने एक प्रयोग किया था, 'नरेन्द्र मोदी प्रयोग। यह प्रयोग विफल न हो, सरकार ने जनता की आकांक्षाओं को पूरा करने के लिए काम किया है। उन्होंने कहा कि पांच साल पूरे होने को आये हैं और उन्हें पूरा विश्वास है कि मोदी सरकार फिर बनने जा रही है। इस चुनाव के लिए पार्टी ने 2०16 से ही तैयारी शुरू कर दी थी और विस्तृत कार्यक्रम बनाये गये थे। बूथ और शक्ति केंद्रों की रचना के साथ जितने चुनाव आए लगभग सभी में हमने सफलता प्राप्त की। वर्ष 2०14 में पार्टी की विभिन्न राज्यों में 6 सरकारें थीं जो एक बार 19 हो गयी थी और अब भी 16 राज्यों में हैं। इससे पहले श्री मोदी ने भाजपा की फिर से पूर्ण बहुमत की सरकार बनने का विश्वास जताया। उन्होंने कहा कि उनका मानना है कि 2०14 की तरह ही 2०19 में भी भाजपा की पूर्ण बहुमत की सरकार बनेगी। उन्होंने कहा, 'मेरा मोटा मोटा मत है कि पूर्ण बहुमत वाली सरकार पांच साल का कार्यकाल पूरा करने के बाद फिर जीतकर सत्ता में आ रही है और लंबे अर्से के बाद ऐसा होगा।

Share it
Top