मुजफ्फरनगर: भीम आर्मी के जिलाध्यक्ष उपकार बावरा जेल से रिहा

मुजफ्फरनगर: भीम आर्मी के जिलाध्यक्ष उपकार बावरा जेल से रिहा

मुजफ्फरनगर। भीम आर्मी मुजफ्फरनगर के जिलाध्यक्ष उपकार बावरा करीब 13 माह बाद जिला कारागार से रिहा हो गए। जेल के बाहर भीम आर्मी के कार्यकर्ताओं ने उनका पगड़ी पहनाकर और माला डालकर स्वागत किया। रिहा होने के बाद उपकार बावरा गांव गादला के लिए रवाना हो गए।

2 अप्रैल 2018 को एससी/एसटी आंदोलन के दौरान हुए बवाल एवं हिंसा आगजनी के बाद उपकार बावरा को गिरफ्तार कर रासुका में निरुद्ध कर दिया गया था, तब से वह जेल में बंद थे। भीम आर्मी जिलाध्यक्ष उपकार बावरा सहित तीन लोगों पर प्रशासन ने हिंसा के आरोप में रासुका के तहत कार्रवाई करते हुए उन्हें राष्ट्रीय सुरक्षा कानून में निरुद्ध कर दिया था।

अब रासुका की 1 साल की अवधि समाप्त होने के बाद उपकार बावरा को पहले ही हिंसा के मामलों में कोर्ट से जमानत मिलने के कारण जेल से गुरुवार को सुबह रिहा कर दिया गया। जिला कारागार के गेट के बाहर भीम आर्मी कार्यकर्ताओ ने पगड़ी ओर फूल मालाएं पहनाकर उनका स्वागत किया।

जेल से रिहा होते ही भीम आर्मी जिलाध्यक्ष उपकार गांव गादला के लिए रवाना हो गए। 2 अप्रैल 2018 को हुए बवाल के दौरान गादला निवासी अमरेश की मुजफ्फरनगर में गोली लगने से मौत हो गई थी।

उपकार बावरा मृतक अमरेश के परिजनों से मुलाकात करेंगे। उपकार बावरा समेत तीनों रासुका निरुद्ध की रिहाई के लिए भीम आर्मी के अध्यक्ष चंद्रशेखर भी पूर्व में दो बार डीएम कार्यालय पर कलक्ट्रेट में प्रदर्शन कर चुके हैं।

Share it
Top