हर हाल में रोका जाये धनबल का दुरूपयोग...आयोग पारदर्शी चुनाव के लिये पूरी तरह मुस्तैद: सुनील अरोडा

हर हाल में रोका जाये धनबल का दुरूपयोग...आयोग पारदर्शी चुनाव के लिये पूरी तरह मुस्तैद: सुनील अरोडा

नई दिल्ली। मुख्य चुनाव आयुक्त सुनील अरोड़ा ने लोकसभा एवं चार राज्यों के विधानसभा चुनाव में पर्यवेक्षकों से धनबल के दुरुपयोग को रोकने तथा पारदर्शी चुनाव के लिए मुस्तैद रहने की अपील की और नई चुनौतियों से निपटने की सलाह दी।

श्री अरोड़ा ने गुरुवार को यहां देश भर के चुनाव पर्यवक्षकों को चुनाव के लिए सजग बनाने वास्ते आयोजित एक बैठक में यह अपील की। गौरतलब है कि इन चुनाव के लिए 1800 पर्यवेक्षक नियुक्त किये गए है, जो आईएएस-आईपीएस अधिकारी हैं। इनमें सामान्य और खर्चों तथा पुलिस के पर्यवेक्षक भी है। पयवेक्षकों में आईएएस आईपीएस के अलावा राजस्व सेवा और केंद्रीय सेवा के भी अधिकारी है। श्री अरोड़ा ने चुनाव में पर्यवेक्षकों की महत्वपूर्ण भूमिका को रेखांकित करते हुए कहा कि निष्पक्ष एवं शांतिपूर्ण चुनाव कराने में इनके योगदान से ही अब चुनाव में बहुत कम गड़बडिय़ां और त्रुटियां रह गयी है। उन्हें निर्देश दिए गए हैं कि चुनाव में किसी तरह की कोई कमी न रह पाए। चुनाव आयुक्त अशोक लवासा और सुशील चन्द्र ने भी बैठक को संबोधित किया।

श्री अरोड़ा ने कहा कि पिछले कई विधानसभा चुनाव में मतदाता सूची मतगणना में विलंब और ईवीएम की खराबी आदि में न्यूनतम कमियां रह गयी है और पर्यवेक्षकों ने अपनी मुस्तैदी का परिचय दिया लेकिन धन बल और सोशल मीडिया की चुनौतियां अभी भी चुनाव में बनी हुई है। बैठक में पर्यवेक्षकों को ईवीएम एवं वीवीपेट मशीन आदि की कार्यप्रणाली और इस्तेमाल तथा प्रबंधन आदि की जानकारी दी गयी और पर्यवेक्षकों के लिए एक मोबाइल ऐप भी प्रदर्शित किया गया। इसके जरिये ये पर्यवेक्षक अपनी निगरानी की रिपोर्ट और चुनाव में शिकायतों की जानकारी दे सकते हैं।

Share it
Top