उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश की लैपटॉप योजना बनी हार्वर्ड यूनिवर्सिटी में चर्चा का विषय



नई दिल्ली। समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष व उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव की छात्रों को मुफ्त लैपटॉप योजना की गूंज विदेशों में भी सुनाई दे रही है। अमेरिका के हार्वर्ड विश्वविद्यालय में पढ़ने वाले विदेशी लगातार भारतीय छात्र से इस योजना के बारे में उत्सुकता से पूछ रहे हैं।

सपा प्रमुख अखिलेश यादव ने मंगलवार को हार्वर्ड विश्वविद्यालय में कानून की पढ़ाई कर रहे भारतीय मूल के अनुराग भास्कर के टवीट को सोशल मीडिया पर साझा किया है। उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश में समाजवादी सरकार के समय छात्रों को 18 लाख लैपटॉप मुफ्त में वितरित किए गए जिसके पीछे समाजवादी पार्टी की एक विकासात्मक सोच का नतीजा है जो अमेरिका के हार्वर्ड में इस योजना की चर्चा हो रही है।

उन्होंने भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) व उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की कड़ी निंदा की। कहा कि जब से केंद्र व राज्य में भाजपा की सरकार आई है, न ही सरकार ने छात्रों को लैपटॉप दिया न ही प्रदेश की जनता के लिए इंटरनेट उपलब्ध कराया है| केवल रंग परिवर्तन व नाम बदलने और देश में नफरत की राजनीति को ही विकास समझा है।

उल्लेखनीय है कि अनुराग भास्कर इस समय अमेरिका के हार्वर्ड में लॉ का छात्र है और उसने अपने ट्विटर के जारी एक बैग की फोटो शेयर की है, जिसमें सपा के शासन के समय लैपटॉप वितरण योजना की फोटो लगी है। उसने कहा कि अक्सर मेरे विदेशी दोस्त इस बैग में लगी फोटो के बारे में पूछते रहते हैं। जब मैं उनको इसके बारे में समझाता हूं, तो वह सभी विदेशी छात्रा लैपटॉप वितरण योजना की सराहना करते हैं। उसके बाद अखिलेश यादव ने अपने सोशल साइट ट्विटर के माध्यम से इस छात्र अनुराग भास्कर के टवीट को शेयर किया।

Share it
Top