सीबीआई के संयुक्त निदेशक का बयान....उच्चतम न्यायालय के निर्देश पर कर रहे हैं पोंजी घोटाले की जाँच

सीबीआई के संयुक्त निदेशक का बयान....उच्चतम न्यायालय के निर्देश पर कर रहे हैं पोंजी घोटाले की जाँच

कोलकाता। केन्द्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) के संयुक्त निदेशक पंकज श्रीवास्तव ने कहा है कि कोलकाता के पुलिस आयुक्त राजीव कुमार दो पोंजी घोटालों की जांच में सहयोग नहीं कर रहे हैं। श्री श्रीवास्तव ने कहा, 'हम उच्चतम न्यायालय के निर्देश पर जांच कर रहे हैं। हमें पुलिस आयुक्त के निवास पर जाने के लिए न्यायालय के किसी तरह के आदेश की जरूरत नहीं है। पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने भाजपा के 'लक्षित हमले के विरोध में राज्यभर में रैली करने का आह्वान किया है। सुश्री बनर्जी ने ट्वटर पर कहा, 'मैं आप सभी का कड़ाके की ठंड में यहां आने के लिए शुक्रिया अदा करती हूं। मैं आप सभी से गुजारिश करती हूं कि वापस घर जायें और वहां शांतिपूर्ण और लोकतांत्रिक ढंग से विरोध रैली निकालें। किसी के उकसावे में न आयें। उन्होंने कहा कि कल राज्यभर में सभी विकास खण्ड स्तर पर दो से चार बजे के बीच रैली निकालें। इस दौरान विरोध दर्ज कराने के लिए काले फीते लगायें और काले झंडे लेकर निकलें। हम डरते नहीं हैं, यदि वह राष्ट्रपति शासन लगाना चाहते हैं तो हम देखेंगे। हम सुनिश्चित करेंगे कि 2०19 में मोदी सत्ता से बाहर हो जायें। सुश्री बनर्जी का सीबीआई के मुद्दे को लेकर अपने समर्थकों के साथ 'संविधान बचाओ धरना जारी रहेगा। वह कल रात नौ बजे से धरने पर बैठी हैं। उन्होंने कहा कि समस्या के समाधान होने तक उनका संघर्ष जारी रहेगा। द्रविड मुनेत्र कषगम (डीएमके) के प्रमुख एम. के. स्टालिन ने ट्वीट कर कहा, फासीवादी भाजपा सरकार के कार्यकाल में सभी संस्थानों की स्वतंत्रता से खिलवाड़ किया है। वह देश के संघीय ढांचे की सुरक्षा और लोकतंत्र की रक्षा के लिए ममता बनर्जी के साथ खड़े होने जा रहे हैं। महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना (एमएनएस) के प्रमुख राज ठाकरे ने ट्वीट कर सुश्री ममता बनर्जी का समर्थन किया। उन्होंने कहा, 'हम केन्द्र सरकार की तानाशाही और अन्याय के विरोध में ममता बनर्जी के साथ हैं। माक्र्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी (माकपा) के महासचिव सीताराम येचुरी ने ट्वीट कर कहा कि तृणमूल कांग्रेस के विरुद्ध भ्रष्टाचार और चिट फंड घोटाले के मामले काफी समय सार्वजनिक हो रहे हैं लेकिन मोदी सरकार इनको लेकर चुप बैठी रही क्योंकि इस घोटालों के मास्टरमाइंड ने भाजपा की सदस्यता ग्रहण कर ली है। अब पांच वर्ष बाद यह सरकार जांच का नाटक कर रही है और टीएमसी अपने भ्रष्टाचार को छिपाने के लिए धरने का नाटक कर रही है।

Share it
Top