रक्षा बजट तीन लाख करोड़ रूपये के पार..यदि जरूरत पड़ी तो इस राशि को और बढाया जायेगा

रक्षा बजट तीन लाख करोड़ रूपये के पार..यदि जरूरत पड़ी तो इस राशि को और बढाया जायेगा


नयी दिल्ली - राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) सरकार ने वर्ष 2019-20 के बजट में रक्षा क्षेत्र के लिए 3 लाख करोड़ रूपये से अधिक का प्रावधान किया है।

वित्त मंत्री पीयूष गोयल ने आम चुनाव से पहले शुक्रवार को लोकसभा में अंतरिम बजट पेश करते हुए कहा कि सरकार ने वर्ष 2019-20 के बजट प्रावधानों में रक्षा बजट के लिए 3 लाख करोड़ रूपये से अधिक का आवंटन किया है। उन्होंने कहा कि यदि जरूरत पड़ी तो इस राशि को और बढाया जायेगा।

वर्ष 2018-19 में रक्षा क्षेत्र के लिए 2 लाख 95 हजार 511 करोड़ रूपये का प्रावधान किया गया था। यह राशि केन्द्र सरकार के कुल खर्च का 12.10 फीसदी थी। इसमें से 1 लाख 95 हजार 947 करोड रूपये नेट एक्सपेंडिचर और 99 हजार 536 करोड रूपये पूंजीगत व्यय के लिए निर्धारित किये गये थे।

इससे पहले वर्ष 2017-18 में रक्षा क्षेत्र के लिए 2 लाख 79 हजार करोड रूपये का प्रावधान किया गया था।

श्री गोयल ने कहा कि पूर्ववर्ती सरकार ने भूतपूर्व सैनिकों की एक रैंक एक पेंशन के लिए 2014.15 के अंतरिम बजट में मात्रा 500 करोड़ रूपये मंजूर किये थे जबकि उनकी सरकार इस मद में अब तक 35 हजार करोड़ रूपये भूतपूर्व सैनिकों को दे चुकी है।


Share it
Top