श्री सिद्धगंगा मठ के डाक्टर शिवकुमार स्वामी ने अपना जीवन समाज को समर्पित किया: मोदी

श्री सिद्धगंगा मठ के डाक्टर शिवकुमार स्वामी ने अपना जीवन समाज को समर्पित किया: मोदी




नयी दिल्ली । प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने श्री सिद्धगंगा मठ के डाक्टर श्री शिवकुमार स्वामी को श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए रविवार को कहा कि उन्हाेंने अपना पूरा जीवन समाज सेवा को समर्पित कर दिया।

श्री मोदी ने आकाशवाणी पर अपने मासिक रेडियो कार्यक्रम 'मन की बात' के 52 वें संस्करण में कहा, " कर्नाटक में टुमकुर जिले के श्री सिद्धगंगा मठ के डॉक्टर श्री श्री श्री शिवकुमार स्वामी जी हमारे बीच नहीं रहे। शिवकुमार स्वामी जी ने अपना सम्पूर्ण जीवन समाज-सेवा में समर्पित कर दिया। भगवान बसवेश्वर ने हमें सिखाया है – 'कायकवे कैलास' – अर्थात् कठिन परिश्रम करते हुए अपना दायित्व निभाते जाना, भगवान शिव के निवास-स्थान, कैलास धाम में होने के समान है।"

प्रधानमंत्री ने कहा कि शिवकुमार स्वामी इसी दर्शन के अनुयायी थे और उन्होंने अपने 111 वर्षों के जीवन काल में हज़ारों लोगों के सामाजिक, शैक्षिक और आर्थिक उत्थान के लिए कार्य किया। उनकी ख्याति एक ऐसे विद्वान के रूप में थी, जिनकी अंग्रेज़ी, संस्कृत और कन्नड़ भाषाओं पर अद्भुत पकड़ थी। वह एक समाज सुधारक थे। उन्होंने अपना पूरा जीवन इस बात में लगा दिया कि लोगों को भोजन, आश्रय, शिक्षा और आध्यात्मिक ज्ञान मिले। किसानों का कल्याण स्वामी जी के जीवन में प्राथमिकता रहती थी। सिद्धगंगा मठ नियमित रूप से पशु और कृषि मेलों का आयोजन करता था।

उन्होेंने पूर्व राष्ट्रपति डॉ० ए.पी.जे. अब्दुल कलाम की स्वामी जी के लिए एक अंग्रेजी कविता का उल्लेख करते हुए कहा कि यह शिवकुमार स्वामी जी के जीवन और सिद्धगंगा मठ के मिशन को सुन्दर ढंग से प्रस्तुत करती है। प्रधानमंत्री ने यह कविता भी पढ़ी।


Share it
Top