भूपेश ने तीजन बाई को पद्म विभूषण के लिए चयनित होने पर दी बधाई

भूपेश ने तीजन बाई को पद्म विभूषण के लिए चयनित होने पर दी बधाई



रायपुर । छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने राज्य की प्रख्यात पंडवानी गायिका श्रीमती तीजन बाई को पद्म विभूषण के लिए चयनित किए जाने पर बधाई दी और उन्हे छत्तीसगढ़ की सांस्कृतिक राजदूत का बताते हुए कहा कि हमें उन पर गर्व है।

श्री बघेल ने यहां जारी संदेश में कहा कि तीजन बाई ने महाभारत की कथाओं पर आधारित छत्तीसगढ़ की लोक गीत-नाट्य की विशिष्ट शैली पंडवानी को न केवल देश में बल्कि अन्तर्राष्ट्रीय स्तर पर विशिष्ट पहचान और प्रसिद्धि दिलाई हैउन्होने छत्तीसगढ़ की समृद्ध कला एवं संस्कृति को और अधिक समृद्ध बनाने में अहम भूमिका निभाई है।

उल्लेखनीय हैं कि तीजन बाई को साल 1988 में पद्म श्री और 2003 में पद्म भूषण सम्मान से सम्मानित किया गया था।तीजन बाई की पहचान छत्तीसगढ़ की प्रसिद्ध पंडवानी गायिका के तौर पर होती है। 2007 में उन्हें नृत्य शिरोमणि से भी सम्मानित किया जा चुका है।

मुख्यमंत्री ने छत्तीसगढ़ के कला और संस्कृति को बचाए और संवर्धन में योगदान देने वाले श्री अनूप रंजन पाण्डेय को पद्मश्री सम्मान के लिए चयनित किए जाने पर हार्दिक बधाई एवं शुभकामनाएं दी है। उन्होने कहा कि छत्तीसगढ़ के सुप्रसिद्ध कलाकार हबीब तनवीर दिखाए गए मार्ग पर चलते हुए श्री पाण्डेय ने रंगमंच तथा विविध कला क्षेत्रों के माध्यम से अनेक प्रयोग एवं कार्य किया।

Share it
Top