सीएम योगी ने गणतंत्र दिवस पर ग्रेटर नोएडा के लोगों को दी मेट्रो की सौगात

सीएम योगी ने गणतंत्र दिवस पर ग्रेटर नोएडा के लोगों को दी मेट्रो की सौगात




-26 जनवरी से नोएडा और ग्रेटर नोएडा के लोग इसकी सवारी कर सकेंगे

- नोएडा की छह अन्य परियोजनाओं का भी किया लोकार्पण

नोएडा। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने 70वें गणतंत्र दिवस पर ग्रेटर नोएडा के लोगों को मेट्रो रेल का तोहफा दिया। शुक्रवार को उन्होंने नोएडा के सेक्टर-137 स्थित मेट्रो स्टेशन पर केंद्रीय शहरी विकास राज्यमंत्री हरदीप सिंह पुरी के साथ हरी झंडी दिखाकर नोएडा-ग्रेटर नोएडा मेट्रो लाइन का उद्घाटन किया। 26 जनवरी से नोएडा और ग्रेटर नोएडा के लोग इसकी सवारी कर सकेंगे।

इसके बाद मुख्यमंत्री योगी व उप मुख्यमंत्री दिनेश शर्मा अपने कैबिनेट सहयोगी सतीश महाना, जय प्रताप सिंह, सुरेश राणा और केंद्रीय मंत्री डॉ. महेश शर्मा के साथ मेट्रो की सवारी कर ग्रेटर नोएडा के डिपो स्टेशन पहुंचे। वहां पर उन्होंने नोएडा और ग्रेटर नोएडा की छह परियोजनाओं का लोकार्पण किया और कई अन्य परियोजनाओं की आधारशिला रखी।

नोएडा-ग्रेटर नोएडा के बीच मेट्रो रेल की आधारशिला 15 दिसंबर-2016 को उत्तर प्रदेश के तत्कालीन मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने रखी थी। एक्वा लाइन मेट्रो रेल का संचालन शुरू होने से दिल्ली, नोएडा और ग्रेटर नोएडा के लगभग 10 लाख लोगों को इसका लाभ मिलेगा। सेक्टर-51 से ग्रेटर नोएडा के डिपो स्टेशन तक 29.164 किलोमीटर लंबे इस कॉरिडोर पर कुल 21 स्टेशन बनाए गए हैं। शुरुआत में इस रूट पर चार डिब्बों की रेल चलाई जाएगी। इस रूट पर अत्याधुनिक सिग्नलिंग सिस्टम और यात्रियों की सुरक्षा के लिए हर स्टेशन पर प्लेटफार्म पर स्क्रीन डोर लगाए गए हैं। इस कॉरिडोर पर 10 मेगावाट सौर ऊर्जा का उत्पादन किया जाएगा। यात्रियोंं की सुविधा के लिए मेट्रो स्मार्ट कार्ड का प्रयोग मेट्रो के अलावा बस के किराये भुगतान के साथ ही शॉपिंग भी की जा सकेगी। 26 जनवरी को यानि इस कॉरिडोर के कामर्शियल ऑपरेशन के पहले दिन सुबह 10.30 से शाम 5 बजे तक मेट्रो चलेगी। रविवार की सुबह 8 से रात 10 बजे तक मेट्रो चलेगी। पहले चरण में 12 ट्रेनों का संचालन प्रत्येक 15 मिनट पर किया जाएगा। शुरुआत के एक वर्ष तक इसका संचालन डीएमआरसी करेगी। उसके बाद यह नोएडा मेट्रो रेल कारपोरेशन (एनएमआरसी) के जिम्मे आ जाएगी।

उद्घाटन से पहले सीएम ने कहा कि अब जल्दी ही मेट्रो का विस्तार ग्रेटर नोएडा के नॉलेज पार्क-5 तक किया जाएगा। सरकार ने इसकी मंजूरी दे दी है। उन्होंने कहा कि आज का दिन नोएडा और ग्रेटर नोएडा के लोगों के लिए बेहद महत्वपूर्ण है। मेट्रो के जरिये दोनों शहर एक दूसरे से जुड़ गए हैं। ग्रेटर नोएडा के डिपो स्टेशन से ही मुख्यमंत्री ने नोएडा की छह परियोजनाओं का भी लोकार्पण किया। इनमें नोएडा में यमुना पर नया पुल, सेक्टर-33 में शिल्प हाट, सेक्टर-108 में ट्रैफिक पार्क, सेक्टर-94 में कमांड कंट्रोल सेंटर, शाहदरा ड्रेन पर पुलों का चौड़ीकरण और सेक्टर-62 में मातृ एवं बाल सदन शामिल है। इसके अलावा मुख्यमंत्री सेक्टर-14ए चिल्ला रेगुलेटर से एमपी-3 रोड पर महामाया फ्लाई ओवर तक बनने वाले एलिवेटेड रोड, डीएससी रोड पर अगाहपुर से स्पेशल इकॉनामिक जोन (एसईजेड) तक बनने वाले एलिवेटेड रोड और सेक्टर-51, 52, 71 और सेक्टर-72 चौराहे पर अंडरपास की आधारशिला रखी।

इस बीच, भारतीय किसान यूनियन भानु के राष्ट्रीय महासचिव बेगराज गुर्जर के नेत्रत्व में प्रतिनिधिमंडल ने मुख्यमंत्री से को सौंपे ज्ञापन में किसानों की समस्याओं के निराकरण की मांग की। इसके अलावा फोनरवा, कोनरवा और अन्य समाजसेवी संस्थाओं ने नोएडा में नगर निगम बनाने की मांग के अतिरिक्त अन्य समस्याएं रखीं। मुख्यमंत्री ने अधिकारियों से जानकारी लेकर जल्द ही समस्याओं के निस्तारण का भरोसा दिया।


Share it
Top