मानेसर भूमि घोटाले में हरियाणा के मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा के घर पर सीबीआई की छापेमारी

मानेसर भूमि घोटाले में हरियाणा के मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा के घर पर सीबीआई की छापेमारी


नई दिल्ली। हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा के रोहतक के डी पार्क स्थित घर पर केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो (सीबीआई) की टीम छापेमारी कर रही है। यह जानकारी सीबीआई के एक वरिष्ठ अधिकारी ने दी है। जानकारी के मुताबिक हुड्डा अपने घर में ही मौजूद हैं। इसलिए उनकी गिरफ्तारी से भी इनकार नहीं किया जा सकता।

जानकारी के मुताबिक सीबीआई की टीम इस मामले में 30 से ज्यादा ठिकानों पर छापेमारी कर रही है। सीबीआई के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया है कि मामला मानेसर के 912 एकड़ लैंड डील से जुड़ा है। सीबीआई ने इस मामले में पहले प्राथमिक जांच (पीई) की कार्रवाई की थी। उसी पीई को बाद में प्राथमिकी के रूप में तब्दील कर दिया गया।

हुड्डा आज जींद की रैली में जाने वाले थे लेकिन इससे पहले उनके घर पर सीबीआई की छापेमारी हो गई। उल्लेखनीय है कि हुड्डा पर भूमि की खरीद बिक्री को लेकर सीबीआई व ईडी (प्रवर्तन निदेशालय) ने मामले दर्ज किए हैं। इसमें मानेसर लैंड डील व हाल में कांग्रेस की महासचिव बनाई गईं प्रियंका गांधी के पति राबर्ट वाड्रा के लैंड डील के मामले प्रमुख हैं।

सीबीआई के सूत्रों के मुताबिक इस भूमि घोटाले को 2004-2008 के दौरान अंजाम दिया गया था। रोहतक से आ रही जानकारी के मुताबिक छापेमारी की खबर पर रोहतक में अफरा-तफरी मच गई।

उल्लेखनीय है कि मानेसर लैंड डील के मामले में मानेसर के पूर्व सरपंच ने उच्च न्यायालय में याचिका दाखिल की थी। फिर उच्च न्यायालय ने मामले की जांच का काम सीबीआई को सौंपा था। मामले में आरोप है कि भूमि अधिग्रहण का डर दिखाकर किसानों को कौड़ी के भाव जमीन बेचने को मजबूर किया गया। उनकी भूमि को बिल्डरों ने खरीद लिया। बाद में सरकार ने अधिग्रहण को लेकर जारी की गई अधिसूचना वापस ले ली। इस मामले में हुड्डा के पारिवारिक सदस्यों के शामिल होने की बात भी सामने आई थी। हाल ही में इस मामले में ईडी ने एबीडब्लू इंफ्रास्ट्रक्चर नामक कंपनी की संपत्तियों को भी जब्त किया था।


Share it
Top