देश में चाहे जैसा भी गठबंधन हो,किसी की ताकत नहीं जो मोदी को हरा सके : मनोज

देश में चाहे जैसा भी गठबंधन हो,किसी की ताकत नहीं जो मोदी को हरा सके : मनोज

गाजीपुर केन्द्रीय रेल राज्य मंत्री मनोज सिन्हा ने कहा देश में चाहे जैसा भी गठबंधन बन जाए लेकिन किसी की ताकत नहीं जो नरेन्द्र मोदी को हरा सके।

श्री सिन्हा गुरुवार शाम अपने लोकसभा क्षेत्र गाजीपुर के जखनिया विधानसभा के दुल्लहपुर में कार्यकर्ताओं के बूथ सम्मेलन को संबोधित कर रहे थे । उन्होंने कहा कि को सपा-बसपा ही नहीं बल्कि कांग्रेस सहित सभी प्रमुख विपक्षी पार्टियों का एक महागठबंधन बनये लेकिन वह भी मोदी को हरा नहीं पायेगा । उन्होंने कहा कि मेरी खुद की दिली इच्छा थी कि सपा-बसप गठबंधन करे, क्योंकि ऐसा होने से तमाम विकास विरोधी विपक्षी पार्टियों के एक मंच पर आने पर आगामी चुनाव में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) का कार्यकर्ता उनको उनकी औकात बता सकें।

उन्होंने कहा कि सपा-बसपा जैसी एक दूसरे की धुर विरोधी पार्टियों के गठबंधन से भाजपा की ताकत का एहसास होता है, ये गठबंधन करप्शन और कमीशन का गठबंधन है जो टिकाऊ नहीं है। देश में चाहे जैसा भी गठबंधन बन जाए किसी की ताकत नहीं जो मोदी को हरा सके, क्योंकि मोदी सरकार ने गरीबों के लिए काम किया है। यह सरकार गरीबों को समर्पित रही है। हमारे लिए सामाजिक न्याय केवल भाषण नहीं बल्कि हमारी प्राथमिकता में शामिल है। ऐसे में बेहतर होता कि कांग्रेस वह वामपंथी से लगायत सभी पार्टियां एक मंच पर आ जाती जिससे भाजपा कार्यकर्ताओं को सबसे एक साथ निपटने में आसानी हो जाती।

श्री सिन्हा ने बूथ प्रमुखों और कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कहा कि पार्टी के कार्यक्रम में कार्यकर्ताओं को युद्ध स्तर पर जुटने की जरूरत है। "अपना बूथ सबसे मजबूत" "बूथ जीता -चुनाव जीता" "हमारा घर भाजपा का घर" जैसे संकल्पों के साथ मैदान में उतरकर पुनः श्री मोदी को भारत का प्रधानमंत्री बनाने का संकल्प लेना होगा। उन्होंने कहा कि नरेंद्र मोदी कर्मयोगी हैं जिन्हें प्रधानमंत्री पद की आवश्यकता नहीं बल्कि खुद हिंदुस्तान की जरूरत है कर्म योगी नरेंद्र मोदी देश के प्रधानमंत्री बने।

उन्होंने कहा कि इस बार भाजपा जीत गई तो आगामी 25 वर्षों तक कभी भाजपा नहीं हरा सकता। कार्यकर्ताओं को लाभार्थी संपर्क योजना पर काम करने की नसीहत देते हुए उन्होंने निर्देश दिया कि 22 करोड़ लाभार्थियों से भारतीय जनता पार्टी कार्यकर्ता उनके घर जाकर संपर्क कर योजनाओं के संबंध में पूरी जानकारी देंगे। कार्यकर्ता लाभार्थियों को बताएंगे कि उन्हें प्राप्त सुविधा कहीं अन्य से नहीं बल्कि स्वयं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के निर्देश पर प्राप्त हुआ है।

Share it
Top