अमेठीवासियों को स्मृति ईरानी कुम्भ में करवा रही गंगा स्नान, कांग्रेस परेशान

अमेठीवासियों को स्मृति ईरानी कुम्भ में करवा रही गंगा स्नान, कांग्रेस परेशान


-कांग्रेस बोली चुनाव पार लगाने के लिए ले रहीं मां-गंगा का सहारा

अमेठी- प्रयागराज में लगा कुम्भ मेला भारत समेत दुनिया भर के करोड़ों लोगों की आस्था से जुड़ा है। जो जहां है, वह अपने लोगों को संगम में डुबकी लगाने के लिए प्रेरित कर रहा है। केंद्रीय कपड़ा मंत्री स्मृति ईरानी भी अमेठीवासियों को गंगा तथा संगम में स्नान कराने के लिए आह्वान कर रही हैं।

उनकी इस अध्यात्मिक योजना पर कांग्रेस ने प्रहार करते हुए कहा है कि चुनावी नैया पार लगाने के लिए स्मृति ईरानी मां गंगा का सहारा ले रहीं हैं। यूं तो कुम्भ मेले में प्रयागराज स्थित गंगा जी मुहाने पर हर कोई अपने साधन और अपने खर्च से पहुंच रहे लेकिन वीवीआइपी जिले अमेठी के लोग यहां आनें में भी वीवीआईपी हैं।

पुष्ट सूत्रों की मानें तो केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी की पहल पर अमेठी में काम कर रही संस्था उत्थान सेवा संस्थान ने लोगों को निशुल्क में कुम्भ स्नान कराने का बेड़ा उठाया है। बकायदा हर एक विधानसभा में दो बसों का इंतजाम भी किया गया है। इन बसों से अमेठी के लोगों को प्रयागराज लाया जाएगा और फिर स्नान के उपरांत घर पहुंचाया जाएगा। इसके अलावा बीजेपी के कार्यकर्ता घर-घर जाकर स्मृति इरानी द्वारा उपलब्ध कराई गई बसों के जरिए आम लोगों को कुम्भ मेले में जाने के लिए प्रेरित कर रहे हैं।

कांग्रेस ने उनके इस क़दम पर सीधा हमला बोला है। कांग्रेस एमएलसी दीपक सिंह का कहना है कि 2014 लोकसभा चुनाव हारने के बाद वह चुनावी नैया पार लगाने के लिए मां-गंगा का सहारा ले रही है। उन्होंने कहा कि उनकी यह खोखली जुगत 2019 में काम नहीं आएगी और वो चाहे कितने भी लोगों को गंगा स्नान करवा लें उन्हें अमेठी में विजय नहीं मिलेगी।

बीजेपी की ओर से जिलाध्यक्ष दुर्गेश त्रिपाठी का कहना है कि केंद्रीय मंत्री के इस क़दम से कांग्रेस बौखला गई है। उन्होंने कहा कि कुम्भ को लेकर आज पूरे देश में एक माहौल बना हुआ है, जिससे भारतीय संस्कृत की झलक देखने को मिल रही है। उन्होंने कहा कि हमें ख़ुशी है कि दीदी ने अमेठी के लोगों के बारे में सोचा। अमेठीवासियों के लिए इस तरह की सोच पहली बार किसी नेता में देखने को मिली है।


Share it
Top