किसानों की खुशहाली से ही देश की खुशहाली संभव : डाॅ मरांडी

किसानों की खुशहाली से ही देश की खुशहाली संभव : डाॅ मरांडी

दुमकाझारखंड की अनुसूचित जनजाति-अनुसूचित जाति, अल्पसंख्यक एवं पिछड़ा वर्ग कल्याण मंत्री डॉ. लुईस मरांडी ने कृषि के विकास पर जोर देते हुए कहा कि किसानों की खुशहाली से ही समाज और देश की खुशहाली संभव है। डॉ. मरांडी ने आज यहां 'जल है जहान है 2.0' के तहत इंडोर स्टेडियम में कृषक विकास संगोष्ठी सह उन्मुखीकरण कार्यक्रम के दौरान उपस्थित योजना के लाभुकों को संबोधित करते हुए कहा कि कृषि एक ऐसा क्षेत्र है जिससे समाज के सभी वर्ग के लोग प्रत्यक्ष एवं परोक्ष रूप से जुड़े हैं। किसान ही अन्नदाता है। किसानों की खुशहाली से ही समाज और देश की खुशहाली सम्भव है। मंत्री ने कहा कि केन्द्र और राज्य सरकार द्वारा कृषि के विकास और किसानों की खुशहाली के लिए कई कल्याणकारी योजनाएं चलाई जा रही है। किसानों की आय को दुगुनी करने के लिए सरकार द्वारा कई उल्लेखनीय कार्य किए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि वर्तमान समय पर पानी की उपलब्धता नहीं होने से लोग खेती नहीं कर पाते थे। इस कारण सरकार द्वारा आम किसानों की जरूरतों को ध्यान मेें रखकर सिंचाई की सुविधा मुहैया कराने के लिए 'जल है जहान है 2.0' योजना शुरू की गयी है जिससे किसान एक फसल का उत्पादन करने के बल्कि पूरे वर्ष अलग-अलग फसल और सब्जियों का उत्पादन कर अपनी आय में वृद्धि कर सकें।

Share it
Top