असमियों की सांस्कृतिक और भाषायी पहचान पर आंच नहीं आयेगी: राजनाथ

असमियों की सांस्कृतिक और भाषायी पहचान पर आंच नहीं आयेगी: राजनाथ

दिल्ली केन्द्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा है कि असम और पूर्वोत्तर के सभी राज्यों के लोगों की सांस्कृतिक और भाषायी पहचान तथा धरोहर पर आंच नहीं आने दी जायेगी। श्री सिंह ने असम के मुख्यमंत्री सर्वानंद सोनोवाल के नेतृत्व में उनसे मिले एक शिष्टमंडल को यह आश्वासन दिया। शिष्टमंडल में असम के वरिष्ठ मंत्री हेमन्त शर्मा तथा राज्य में पार्टी के कुछ अन्य नेता शामिल थे। मुलाकात के दौरान असम और पूर्वोत्तर के अन्य राज्यों के लोगों की सांस्कृतिक और भाषायी पहचान, असम समझौते के अनुच्छेद 6 और छह समुदायों को अनुसूचित जनजाति का दर्जा देने के बारे में बातचीत की गयी।

गृह मंत्री से बोडो समुदाय के कुछ प्रतिनिधिमंडलों ने भी मुलाकात की। श्री सिंह ने कहा कि संसद में संबंधित विधेयक पेश करते हुए उन्होंने स्पष्ट किया था कि इससे किसी के हितों पर प्रतिकूल प्रभाव नहीं होगा। उन्होंने कहा कि वह जल्द ही पूर्वोत्तर के राज्यों के मुख्यमंत्रियों की बैठक बुलाकर सभी मुद्दों पर चर्चा करेंगे। [रॉयल बुलेटिन अब आपके मोबाइल पर भी उपलब्ध, ROYALBULLETIN पर क्लिक करें और डाउनलोड करे मोबाइल एप]

Share it
Top