अब पूरी तरह जनता दल (यू) के हो गए प्रशांत किशोर

अब पूरी तरह जनता दल (यू) के हो गए प्रशांत किशोर


नई दिल्ली। सभी राजनीतिक चिंतक को असमंजस में डालते हुए एक बार फिर से राजनीतिक रणनीतिकार प्रशांत किशोर जनता दल (यू) और नीतीश कुमार के साथ हो गए हैैं।

उल्लेखनीय है कि इससे पहले प्रशांत किशोर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी, नीतीश कुमार और कांग्रेस के लिए भी चुनावी रणनीति बना चुके हैं। पॉलिटिकल एक्शन कमेटी के संस्थापक प्रशांत किशोर रविवार को नीतीश कुमार की उपस्थिति में जदयू में शामिल हो गए। अपने ट्विट में उन्होंने कहा है कि वह बिहार में फिर से अपनी यात्रा शुरू करने को लेकर उत्साहित हैं।

प्रशांत किशोर ने अपनी व्यावसायिक जिंदगी की शुरुआत संयुक्त राष्ट्रसंघ के लोक स्वास्थ्य विशेषज्ञ के रूप में की थी। 2014 के आम चुनाव के दौरान उन्होंने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के साथ रहकर उनकी चुनावी रणनीतियां बनाईं। इसके बाद उन्होंने भाजपा से दूरी बनाते हुए बिहार में सभी विपक्षी दलों को साथ कर 2015 चुनाव के दौरान जदयू-राजद विजय को मजबूत किया।

हालांकि उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के दौरान उनका करिश्मा काम नहीं कर पाया और वहां भाजपा की सरकार तीन-चौथाई से बहुमत से आ गई। इस बीच दो सालों से किशोर की पॉलिटिकल एक्शन कमेटी जगनमोहन रेड्डी की पार्टी वाईएसआर कांग्रेस के लिए कंसल्टेंसी कर रही थी।

उधर, पिछले 10 सितम्बर को प्रशांत किशोर ने कहा था कि वह अपनी संस्था को किसी काबिल व्यक्ति को सौंपकर सतही काम करना शुरू करेंगे। उन्होेंने कहा था कि 2019 में प्रशांत किशोर किसी के चुनाव प्रचार करते हुए नहीं मिलेंगे। जदयू में प्रशांत किशोर के आने के बाद नीतीश फूले नहीं समा रहे हैं। कहा जा रहा है कि इससे नीतीश और उनकी पार्टी को मजबूती मिली है।


Share it
Top