वसुंधरा सरकार अंगद के पांव के समान, कोई हटा नहीं सकता : शाह

वसुंधरा सरकार अंगद के पांव के समान, कोई हटा नहीं सकता : शाह


पाली । भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने कहा कि राजस्थान की वसुंधरा सरकार अंगद के पांव के जैसा है। इसे कोई नहीं हटा सकता। राहुल गांधी का सपना यहां सच नहीं हो सकता। क्योंकि यह चुनाव किसी दल का नहीं है, बल्कि कार्यकर्ताओं का चुनाव है, इसलिए किसी भी हालत में भाजपा को सत्ता से दूर नहीं किया जा सकेगा। शाह रविवार दोपहर शहर के अणुव्रत नगर में आयोजित पार्टी के शक्ति केन्द्र अध्यक्षों की बैठक को संबोधित कर रहे थे।

शाह ने कार्यकर्ताओं को जीत का मंत्र देते हुए अपने बचपन में घटी गीता के कार्यक्रम की एक कहानी सुनाई। उन्होंने कहा कि राहुल गांधी को यह सपना आया है कि राजस्थान में इस बार कांग्रेस सरकार बनेगी, राहुल का यह सपना कभी पूरा नहीं हो सकेगा। साल 2014 में देश की सत्ता पर आसीन होने के बाद से प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में भाजपा ने 19 सरकारें बनाई हैं। ऐसी-ऐसी जगह भाजपा की सरकार बनी हैं, जहां कभी किसी ने सोचा तक नहीं था। राहुल बाबा प्रधानमंत्री मोदी से सवाल पूछते हैं, जबकि हर प्रदेश में आमजनता उन्हें जवाब दे देती है। राहुल की चार पीढ़ियों ने देश पर शासन किया, लेकिन आम जनता को कभी कामकाज का हिसाब नहीं दिया। हम जनता को हिसाब भी दे रहे हैं और आम जनता के बीच जा भी रहे हैं।

सम्मेलन को भाजपा प्रदेश अध्यक्ष मदनलाल सैनी, राष्ट्रीय उपाध्यक्ष ओम माथुर समेत कई नेताओं ने संबोधित किया। इससे पहले विधानसभा चुनाव के मद्देनजर बूथ मैनेजमेंट को सशक्त बनाने के मकसद से शाह हेलिकॉप्टर से पाली पहुंचे। उनके लिए बनाए गए अस्थाई हेलिपैड से शाह सीधे अणुव्रत नगर स्थित शक्ति केन्द्र सम्मेलन स्थल पर पहुंचे। शक्ति केन्द्र सम्मेलन के बाद शाह बांगड़ स्कूल में ओबीसी मोर्चा के सम्मेलन में शामिल हुए। यहां भोजन के बाद शाह जोधपुर के लिए रवाना हो जाएंगे।

अब तक का सबसे कमजोर विपक्ष : सैनी

शाह के दौरे से पहले पाली में मीडिया से बातचीत करते हुए भाजपा प्रदेश अध्यक्ष सैनी ने विपक्ष को अब तक का सबसे कमजोर विपक्ष बताया। सैनी ने विपक्ष पर कटाक्ष करते हुए कहा कि विपक्ष के पास मुद्दाविहीन राजनीति है। विपक्ष के पास मुद्दे होते तो सरकार की कमियां व नाकामियों को विधानसभा में उठाते, लोकसभा में उठाते। उन्होंने कहा कि ये उनके पास मुदृदा उठाने का अच्छा अवसर था। लोकसभा में विपक्ष नहीं है, लेकिन राज्य में मुद्दों को जरूर उठाते। जनता के बीच जाकर उठाते। अब चुनाव के मौके पर कुछ बोलना चाहिए तब भी ऐसे मुद्दे उठा रहे है जिनका जनता पर कोई असर नहीं हो रहा है। राजस्थान में भाजपा सरकार ने जो काम किए हैं उनको लेकर हम जनता के बीच जा रहे है। शिक्षा में राजस्थान 26वें नम्बर पर था, जिसे 2 नम्बर पर ले आए हैं।


Share it
Top