उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने किया ऐलान....जनवरी में खुलेगा नौकरियों का पिटारा

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने किया ऐलान....जनवरी में खुलेगा नौकरियों का पिटारा

बागपत। चुनावी साल में युवाओं को रिझाने की कवायद के तहत उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मंगलवार को कहा कि अगले साल जनवरी में राज्य सरकार नौकरियों का पिटारा खोलेगी और पात्रों को बगैर भेदभाव के अवसर प्रदान किये जायेंगे।

दिल्ली-सहारनपुर राष्ट्रीय राजमार्ग के शिलान्यास समारोह को संबोधित करते हुए श्री योगी ने कहा कि हमारी सरकार बेरोजगारों के साथ ही युवाओं को भी काम देने के दिशा में काम कर रही है। प्रदेश में शिक्षकों के 97000 पद खाली हैं। हम नौकरी देंगे, इनको लेने के नौजवान आगे आएं। इसके साथ पुलिस में भी 90 हजार भर्ती आ रही है। खिलाडियों को भी सरकारी नौकरी के अवसर प्रदान किये जायेंगे। किसानों के जख्मों पर मरहम लगाते हुए कहा कि पिछली सरकार ने किसानों के नलकूप कनेक्शन बंद कर दिए थे, जिनको प्रदेश की भाजपा सरकार ने खोलने का काम किया है। उन्होंने गन्ने का संपूर्ण भुगतान 15 अक्टूबर तक करने के निर्देश चीनी मिल अधिकारियों को दिए। इसके बाद उन्होंने चेतावनी दी कि यदि किसानो के गन्ने का पूरा भुगतान नहीं किया जाता तो 15 अक्टूबर के बाद शासन का चाबुक चलेगा और गन्ने का भुगतान कराया जाएगा। सभा में ही एशियन गेम में पदक लेकर लौटे बागपत क्षेत्र के सभी खिलाडिय़ों को मुख्यमंत्री और केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने फूल माला पहनाकर सम्मानित किया। उन्होंने घोषणा की कि लखनऊ में प्रदेश के सभी खिलाडिय़ों को सम्मानित करने के लिए एक अलग से आयोजन किया जाएगा। उनको सरकार की ओर से सरकारी नौकरी भी दी जाएगी और यथासंभव उनको मदद उपलब्ध कराई जाएगी। श्री योगी ने बड़ौत में खोले गए स्टेडियम का नाम भी बागपत के 1857 के क्रांतिकारी वीर बाबा शाहमल के नाम पर रखने की घोषणा की। मुख्यमंत्री ने कहा कि सरकार का लक्ष्य सभी को सुरक्षा प्रदान करना है। आज या तो अपराधी प्रदेश को छोड़कर जा चुके हैं या जेल के अंदर बंद है। प्रदेश सरकार ने बिना किसी भेदभाव के सभी को अपने त्योहारों को शांतिपूर्वक मनाने का अवसर दिया, जबकि पिछली सरकारों में कुछ त्योहारों पर प्रतिबंध लगाने का काम किया गया था।

उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने कहा कि आज देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को हटाने के लिए सभी विरोधी ताकतें एकजुट हो गई हैं। उन्होंने इस एकजुटता को गठबंधन के अलावा महाठगबंधन और मौकापरस्त गठबंधन बताया। उन्होंने कहा कि ये सभी दल जो आपस में एक-दूसरे को नहीं देख सकते थे, अब वे मोदी सरकार को हटाना चाहते हैं। उन्होंने कहा कि प्रदेश व केंद्र सरकार सबका साथ सबका विकास के मार्ग पर चलकर बिना किसी भेदभाव के सभी का एकरूपता से विकास कर रही है। प्रदेश में पूर्व प्रधानमंत्री चौधरी चरण सिंह, किसान नेता महेंद्र सिंह टिकैत के नाम पर सड़कें बनाई जाएंगी, वहीं सरदार वल्लभ भाई पटेल, लक्ष्मीबाई आदि जितने भी महापुरुष इस देश और प्रदेश में हुए हैं सभी के नाम पर सड़कें बनाने का काम प्रदेश और केंद्र सरकार की ओर से किया जाएगा। श्री मौर्य ने कहा कि वह बिना किसी भेदभाव जाति धर्म से ऊपर उठकर हर राष्ट्रभक्त व महान नेताओं के नाम पर भी सड़क बनाने का काम करेंगे। पूर्व राष्ट्रपति एपीजे अब्दुल कलाम आजाद, महान समाजवादी चिंतक कर्पूरी ठाकुर, जयप्रकाश नारायण आदि के नाम पर भी सड़क का निर्माण किया जाएगा।

Share it
Share it
Share it
Top