योगी जी शामली के डीएम, एडीएम मुझे जान से मार देंगें..! मुख्यमंत्री से सुरक्षा व्यवस्था या शामली से तबादले की मांग

योगी जी शामली के डीएम, एडीएम मुझे जान से मार देंगें..! मुख्यमंत्री से सुरक्षा व्यवस्था या शामली से तबादले की मांग


लखनऊ। योगी जी मुझे शामली के डीएम और एडीएम से बचाईये, वरना ये दोनों मुझे जान से मार देगें। यह आरोप शामली में तैनात ट्रेजरी ऑफिसर ने पुलिस अधीक्षक, प्रमुख सचिव, निदेशक कोषागार और मुख्यमंत्री को शिकायत कर डीएम और एडीएम पर लगाए हैं। यही नहीं उन्होंने एडीएम पर अभद्रता व मारपीट करने का आरोप भी लगाया है। इसके अलावा नियमों के विरुद्ध जबरन काम कराए जाने का भी आरोप है।

शामली कलेक्ट्रेट में तैनात ट्रेजरी ऑफिसर ज्ञानेंद्र पांडेय ने एडीएम केबी सिंह पर अभद्रता करने व मारपीट का आरोप लगाया है। ट्रेजरी ऑफिसर का आरोप है कि एडीएम केबी सिंह ने उनके दफ्तर में घुसकर पहले तो स्टाफ के साथ अभद्रता करते हुए गाली -गलौज की। उसके बाद पीड़ित आफिसर के सरकारी नंबर पर फोन किया और उन्हें अपने दफ्तर में आने के लिए कहा गया। जिस पर पीड़ित ज्ञानेंद्र पांडेय एडीएम केबी सिंह के आफिस पहुंचे। आरोप है कि उसी दौरान एडीएम ने गाली गलौज करना शुरू कर दिया, और जमकर मारपीट की।

आरोप है कि एडीएम केबी सिंह व डीएम इंद्रविक्रम सिंह जबरन नियमों के विरुद्ध कार्य कराने का दबाव बना रहे थे। जिसे ज्ञानेन्द्र ने करने से मना कर दिया था। इस बात को लेकर एडीएम आग बबूला हो गए ओर ट्रेजरी के अफसर व कर्मचारियों से गली गलौच व मारपीट कर डाली। शिकायत पर उच्च अधिकारी ने डीएम इन्द्रविक्रम से बात करनी चाही तो डीएम ने पहले तो पीड़ित ऑफिसर को अपने आफिस से बाहर चले जाने की बात कही। डीएम ने दौबारा आफिस पहुंचने पर अंजाम भुगतने की भी बात कही। पीड़ित ने पुलिस अधीक्षक, प्रमुख सचिव, निदेशक कोषागार और मुख्यमंत्री को शिकायत डीएम व एडीएम से जान का खतरा बताते हुए सुरक्षा की गुहार लगाई है। उन्होने सुरक्षा मुहैय्या कराने या शामली से उनका ट्रांसफर कर दिए जाने की मांग की है।

Share it
Top