कर्नाटक में सरकार पर सुप्रीम कोर्ट ने रातभर की सुनवाई,दिया फैसला-येदुरप्पा लेंगे शपथ,रोक लगाने से किया इन्कार...!

कर्नाटक में सरकार पर सुप्रीम कोर्ट ने रातभर की सुनवाई,दिया फैसला-येदुरप्पा लेंगे शपथ,रोक लगाने से किया इन्कार...!

नयी दिल्ली-कर्नाटक में भारतीय जनता पार्टी के नेता बी एस येदुरप्पा के प्रस्तावित शपथ ग्रहण की पृष्ठभूमि में कांग्रेस-जद (एस) आधी रात को उच्चतम न्यायालय पहुंची, जिसकी सुनवाई रात में करीब दो बजे शुरू हुई ।लगभग साढ़े तीन घंटे तक चली सुनवाई के बाद सुबह लगभग साढ़े 5 बजे अदालत ने फैसला दिया कि येदुरप्पा को शपथ ले लेने दिया जाए,लेकिन बहुमत के लिए दिया गया 15 दिन का समय बहुत ज्यादा है | अदालत इस मामले में आज दिन में 2 बजे फिर सुनवाई करेगा |अदालत ने बीजेपी से अपने समर्थक विधायकों की सूची भी मांगी है |

राज्यपाल द्वारा बुधवार रात को 9 बजे बीजेपी को सरकार बनाने का न्योता देने के बाद कांग्रेस-जद (एस) ने अचानक रात को सुप्रीम कोर्ट के अतिरिक्त रजिस्ट्रार के समक्ष मामला दर्ज किया था, जिसे मुख्य न्यायाधीश दीपक मिश्रा के आवास पर ले जाया गया। न्यायमूर्ति मिश्रा ने मध्य रात्रि के बाद सुनवाई के लिए पीठ गठित की जिसमे जस्टिस ए.एस.सिकरी,जस्टिस अशोक भूषण और जस्टिस अरविन्द बोबडे को शामिल किया गया, जिन्होंने ये सुनवाई की |

कांग्रेस की ओर से वरिष्ठ अधिवक्ता अभिषेक मनु सिंघवी ने जिरह की, जबकि येदियुरप्पा और बीजेपी की ओर से पूर्व एटर्नी जनरल मुकुल रोहतगी ने मोर्चा संभाला। केंद्र सरकार की ओर से एटर्नी जनरल केके वेणुगाेपाल, अतिरिक्त सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता एवं मनिन्दर सिंह भी पेश हुए।अदालत में अपनी बहस के दौरान कांग्रेस के अधिवक्ता अभिषेक मनु सिंघवी ने बीजेपी से पूछा कि उनके पास 104 विधायक है तो वो बाकी कहाँ से जुटाएंगे, जिस पर बीजेपी के वकील ने कहा कि बहुमत का फैसला केवल सदन में ही हो सकता है |मुकुल रोहतगी ने कहा कि राज्यपाल अदालत की परिधि से बाहर है,उस पर सुनवाई ही नहीं की जा सकती |
अदालत ने भी अटार्नी जनरल से पूछा कि जब कांग्रेस और जेडीएस 116 का बहुमत अपने पास बता रहे है तो बीजेपी बहुमत कैसे सिद्ध करेगी ?,जिस पर अटार्नी जनरल ने भी कहा कि हम अपना बहुमत विधानसभा में ही साबित करेंगे | कांग्रेस के अभिषेक मनु सिंघवी ने कहा कि अदालत सुबह साढ़े 9 बजे की बजाय 3 घंटे के लिए ही शपथ टाल दे,उससे पहले पूरी सुनवाई कर ले,क्योंकि अगर शपथ हो गयी तो फिर हटाना उचित नहीं होगा,इस पर अदालत ने कहा कि शपथ ले लेने दीजिये,दोपहर 2 बजे इस मामले पर आगे सुनवाई करेंगे |अदालत ने बीजेपी से कहा कि 2 बजे अपने समर्थक विधायकों की लिस्ट भी लेकर आये |

Share it
Top