हरियाणा विस चुनाव : अंबानी-अडानी के लाउडस्पीकर हैं मोदी : राहुल गांधी

हरियाणा विस चुनाव : अंबानी-अडानी के लाउडस्पीकर हैं मोदी : राहुल गांधी


-मुस्लिम बाहुल्य नूंह में गरजे राहुल गांधी, किसान और गरीब-मजदूर चलाता है देश की अर्थव्यवस्था

नूंह। कांग्रेस के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी अंबानी-अडानी के लाउड स्पीकर हैं। दिन भर केवल उनकी ही बात करते हैं। भाजपा सरकार किसानों का कर्ज माफ करने की बजाय देश के अरबपतियों की जेब भरने का काम कर रही है। जब तक किसान, गरीब और मजदूर की जेब में पैसा नहीं जाएगा, तब तक अर्थव्यवस्था में सुधार नहीं होगा। इन्हीं तीनों वर्गों पर अर्थव्यवस्था आधारित है। छह महीने बाद देश की अर्थव्यवस्था चिंताजनक स्थिति में होगी। इसके बाद देश का युवा एकजुटता के साथ खड़ा होगा।

सोमवार को राहुल गांधी नूंह में आयोजित जनसभा को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि भाजपा कांग्रेस को कोसती थी कि पिछले 70 साल में कांग्रेस ने क्या किया, मगर वे दावे के साथ कहते हैं कि पिछले पांच साल में 40 साल से ज्यादा बेरोजगारी है। प्रधानमंत्री देश की जनता के साथ हर 10वें दिन मन की बात करते हैं, लेकिन काम की बात कभी नहीं करते। उनका काम केवल सच्चाई से हटाकर जनता को गुमराह करने का है। युवाओं को दो करोड़ रोजगार देने के मुद्दे पर प्रधानमंत्री चुप हैं। देश की अर्थव्यवस्था लगातार बिगड़ रही है, उद्योग-धंधे और फैक्टरियां बंद हो रही हैं।

राहुल गांधी ने कहा कि देश में दो विचारधाराओं की लड़ाई है। भाजपा का काम देश को बांटने का है। जहां भी भाजपा जाती है, वहीं लड़ाई-झगड़े बढ़ जाते हैं। कांग्रेस ने हमेशा देशहित में काम किया है। प्रधानमंत्री ने देश के 15 अरबपतियों का 5 लाख 50 हजार करोड़ रुपये का कर्जा माफ किया, लेकिन किसानों के कर्जे की सुध नहीं ली।

कांग्रेस ने 2004 से लेकर 2014 तक गरीब, मजदूर और किसान को सक्षम बनाया। मनरेगा योजना से हर गरीब की जेब में पैसा गया, जिससे अर्थव्यवस्था में बहुत सुधार हुआ। यह बात 2015 में उनसे मिलने पहुंचे विदेशी प्रतिनिधिमंडल ने कही। प्रतिनिधिमंडल का कहना है कि उनके समय में मनरेगा से हर वर्ग की स्थिति में सुधार हुआ और उन्होंने अपने जरूरतों की चीजें खरीदी, जिससे अर्थव्यवस्था सुचारू रूप से चली।

राहुल गांधी ने मुख्यमंत्री मनोहर लाल पर बरसते हुए कहा कि यहां हरियाणा में भ्रष्टाचार चरम पर है। मगर सीएम बड़े-बड़े दावे कर रहे हैं कि किसानों एवं युवाओं की हालत खराब है। उन्होंने दावा किया कांग्रेस ने पांच प्रदेशों में सरकार बनते ही किसानों का कर्जा माफ किया है, यही काम वे हरियाणा में भी करेंगे। हरियाणा के जनता के पास यह मौका है।

Share it
Top