हाईकोर्ट बार ने शोक सभा कर कोर्ट परिसर में अस्त्र-शस्त्र लाने पर प्रतिबन्ध की मांग उठाई

हाईकोर्ट बार ने शोक सभा कर कोर्ट परिसर में अस्त्र-शस्त्र लाने पर प्रतिबन्ध की मांग उठाई

प्रयागराज। बार काउंसिल की अध्यक्ष दरवेश यादव की हत्या पर इलाहाबाद हाईकोर्ट बार एसोसिएशन ने शोक श्रद्धांजलि अर्पित की और सुरक्षा कर्मियों के अलावा न्यायालय परिसर में अस्त्र शस्त्र लेकर जाने पर प्रतिबन्ध लगाने की मांग की है। साथ ही यादव के परिवार को पद के अनरूप अधिकतम अनुकम्पा राशि दिए जाने की भी मांग की है।

विधिज्ञ परिषद, बार एसोसिएशन के पदाधिकारियों की मांग पर जानमाल को खतरे की आशंका पर शस्त्र लाइसेंस दिए जाने का प्रस्ताव पारित किया है। बार एसोसिएशन की शोक सभा की अध्यक्षता वरिष्ठ उपाध्यक्ष अखिलेश कुमार मिश्र गांधी व संचालन महासचिव जितेंद्र बहादुर सिंह ने किया। हाईकोर्ट बार के पूर्व उपाध्यक्ष उपेंद्र सिंह लोहा व अमरेंद्र कुमार सिंह, अधिवक्ता परिषद हाईकोर्ट इकाई के पूर्व अध्यक्ष नरसिंह दीक्षित, हाईकोर्ट बार एसोसिएशन के उपाध्यक्ष श्रीकांत केशरवानी, संयुक्त सचिव नीलम शुक्ला, एस एन मिश्र कोषाध्यक्ष, अनिल पाठक, काशीनाथ सिंह, रचना दुबे, डीएन मिश्र, उदय शंकर तिवारी आदि सभा में मौजूद थे। बार एसोसिएशन ने निर्णय लिया है कि मुख्य न्यायाधीश गोविन्द माथुर, मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ, बार काउंसिल ऑफ इंडिया सहित अन्य अधिकारियों को प्रस्ताव भेजा जाय। लंच बाद न्यायिक कार्य न करने का फैसला लिया गया।

उ.प्र जूनियर लायर्स एसोसिएशन के सचिव जी.पी सिंह, प्रयागराज अधिवक्ता संघ के अध्यक्ष एन.के चटर्जी, यंग लायर्स एसोसिएशन के अध्यक्ष सन्तोष त्रिपाठी, उपाध्यक्ष बी.डी पांडेय, बी.एन मिश्र, हरवन्स सिंह, डी कुमार आदि अधिवक्ता संगठनों ने शोकसभा कर पीड़ित परिवार को मुआवजा देने की मांग की है।


Share it
Top