मेरठ: बारात पर हमला, दुल्हन से छेड़छाड़, ज्वैलरी लूटी, बारातियों को दौड़ा-दौड़ाकर पीटा, गांव में सांप्रदायिक तनाव

मेरठ: बारात पर हमला, दुल्हन से छेड़छाड़, ज्वैलरी लूटी, बारातियों को दौड़ा-दौड़ाकर पीटा, गांव में सांप्रदायिक तनाव

मेरठ। उत्तर प्रदेश के मेरठ में भावनपुर थाना क्षेत्र से बागपत लौट रही सॉफ्टवेयर इंजीनियर की बारात पर दर्जनभर युवकों ने मामूली कहासुनी के बाद हमला बोल दिया। दुल्हन से छेड़छाड़ करते हुए उसके जेवरात लूट लिए। विरोध करने पर दूल्हे और बारातियों को दौड़ा-दौड़ाकर पीटा। लाठी-डंडों और चाकुओं से जमकर वार किए। हमलावरों ने दो गाड़ियां तोड़ डाली। वारदात के विरोध में बारातियों और स्थानीय ग्रामीणों ने कई घंटे तक हंगामा किया। पांच-छह थानों की पुलिस फोर्स ने पहुंचकर मोर्चा संभाला। पुलिस ने छह नामजद अभियुक्तों को गिरफ्तार कर लिया है।

बागपत में दोघट थाना क्षेत्र के ग्राम नांगल निवासी ललित शर्मा नोएडा की एक कंपनी में सॉफ्टवेयर इंजीनियर हैं। उनके भाई दीपक शर्मा दिल्ली पुलिस में कांस्टेबल हैं। ललित की शादी रविवार को मेरठ में परीक्षितगढ़ थाना क्षेत्र के ग्राम अल्लीपुर आलमपुर निवासी मानसी पुत्री प्रवेश शर्मा से हुई। रविवार रात साढ़े नौ बजे दूल्हा-दुल्हन सहित बारातियों की पांच-छह गाड़ियां बागपत लौट रही थीं। रास्ते में दुल्हन को उल्टियां लगने पर ड्राइवर ने भावनपुर थाना क्षेत्र में पचपेड़ा गांव के गेट के पास कार रोकी। इस दौरान पचपेड़ा के कुछ लोग पहुंच गए। उन्होंने दुल्हन पर टिप्पणी कर दी। कार पर सजावट के लिए लगे फूल तोड़ लिए। कार में बैठे दूल्हे सहित अन्य लोगों ने विरोध किया। विवाद बढ़ा तो आरोपियों ने पचपेड़ा गांव में फोन कर 40-50 लड़के बुलवा लिए।

हमलावरों ने दुल्हन के जेवरात लूट लिए। दूल्हे ललित शर्मा की पिटाई की। अन्य बाराती कार से उतर आए तो उन्हें दौड़ा-दौड़ाकर लाठी-डंडों से पीटा। हमलावरों के पास चाकू भी थे। चाकुओं से वार में चार-पांच लोग घायल हो गए। बारातियों ने अपनी कारें दौड़ाकर वहां से जान बचाई। हमलावरों ने दूल्हा-दुल्हन की कार व एक अन्य गाड़ी के शीशे तोड़ दिए। सौ नंबर की सूचना पर कई थानों की पुलिस पहुंची। पुलिस ने घेराबंदी करते हुए छह आरोपी पकड़ लिए, शेष भाग निकले। दुल्हन के भाई गौरव शर्मा की तहरीर पर पुलिस ने सात नामजद व 50-60 हमलावरों के खिलाफ गंभीर धाराओं में केस दर्ज कर लिया है।

मामले की खबर पाकर दुल्हन के गांव से भी सैकड़ों लोग पचपेड़ा गांव के गेट के सामने एकत्रित हो गए। इधर, पचपेड़ा गांव के आरोपी पक्ष की तरफ से भी सैकड़ों लोग पहले से इकट्ठा थे। दोनों पक्षों के बीच टकराव के हालात बन गए। सूचना पर एसपी क्राइम डॉ.बीपी अशोक, सीओ चक्रपाणि त्रिपाठी कई थानों की पुलिस को लेकर पहुंच गए। उन्होंने जैसे-तैसे हालातों पर काबू पाया। पुलिस ने त्वरित कार्रवाई करते हुए नामजद आरोपी शादाब, शाहबाज, बहादुर, इमरान, कामरान, नदीम और यूसुफ को गिरफ्तार कर लिया। बारात पर हमले की खबर मिलते ही भाजपा और अन्य हिन्दू संगठनों के तमाम नेता भावनपुर थाने पर पहुंच गए। उन्होंने आरोपियों पर कार्रवाई की मांग करते हुए हंगामा कर दिया। मौजूद लोगों ने पुलिस से कहा कि रात में ही आरोपियों के घर दबिश देकर उनकी गिरफ्तारी की जाए।

मेरठ एसपी क्राइम डॉ.बीपी अशोक के अनुसार सात नामजद सहित 50-60 आरोपियों पर गंभीर धाराओं में केस दर्ज कर लिया है। नामजद आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। अज्ञात आरोपियों को पकड़ने के लिए दबिशें दी जा रही हैं।

Share it
Top