पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव का बयान....सपा-बसपा गठबंधन ने कर ली है सीटों की पहचान

पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव का बयान....सपा-बसपा गठबंधन ने कर ली है सीटों की पहचान

लखनऊ। समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा है कि सपा और बहुजन समाज पार्टी गठबंधन ने लोकसभा चुनाव के लिये उत्तर प्रदेश की सीटों की पहचान कर ली है। श्री यादव ने सोमवार को यहां पार्टी की छात्र इकाई के पदाधिकारियों से भेंट करने के बाद संवाददाताओं से कहा कि लोकसभा चुनाव के लिये सपा-बसपा गठबंधन ने सभी तैयारियां पूरी कर ली है। सीटों की पहचान कर ली गई है। इसमें अब कोई संशय नहीं है। उन्होंने कहा कि सपा और बसपा दोनों के कैडर में कोई भ्रम नहीं है और अब लोगों ने एक नए प्रधानमंत्री का चुनाव करने का निर्णय लिया है। सपा और बसपा कार्यकर्ताओं के बीच आपसी समन्वय बना हुआ है। हमारे कार्यकर्ता बसपा का नारा बुलंद कर रहे हैं। सपा अध्यक्ष विभिन्न डिग्री कालेज में समाजवादी छात्रसभा के विजेता पदाधिकारियों से मिले और उन्हें शुभकामना दी। उन्होंने सपा-बसपा गठबंधन के नेता के बारे में कहा कि हमारे पास तो प्रधानमंत्री के कई दावेदार हैं, लेकिन भाजपा के पास कोई नया नाम नहीं है। गठबंधन तो अपना प्रधानमंत्री आसीन करने की तैयारी में लगा है। उन्होंने कहा कि हमारे पास बहुत विकल्प हैं। हमारे देश में नेतृत्व जनता खुद तय कर लेती है। आने वाले समय में जल्दी ही महागठबंधन का नेता तय होगा। श्री यादव ने दावा किया कि उनके गठबंधन में शामिल होने के लिए कुछ छोटे दलों के बारे में कोई भ्रम नहीं है, क्योंकि वह अधिक समायोजित करने के लिए तैयार हैं। पार्टी संरक्षक मुलायम सिंह यादव अपनी इच्छा से किसी भी सीट से सपा उम्मीदवार के रूप में चुनाव लड़ेंगे। सपा अध्यक्ष ने योगी सरकार पर तंज कसते हुए कहा कि साधु-संतों को हर महीने 2० हजार रुपये पेंशन मिलनी चाहिए। रामलीला करने वालों को भी पेंशन मिलनी चाहिये। भगवान राम को भी पेंशन मिले और माता सीता को भी पेंशन मिलनी चाहिए। इसके बाद यदि कुछ बच जाए तो रावण को भी पेंशन मिलनी चाहिये। उन्होंने कहा कि हमने यश भारती सम्मान दिया था और समाजवादी पेंशन दे रहे थे सरकार ने ये सब बंद कर दिया। अब इन्हें फिर से शुरू किया जाना चाहिए। भारतीय जनता पार्टी की विधायक साधना सिंह द्वारा बसपा सुप्रीमो मायावती पर की गई टिप्पणी पर अखिलेश ने कहा कि इन लोगों को अपनी हार तय दिख रही है, इसलिए इस तरह की भाषा बोल रहे हैं। भाजपा विधायक की टिप्पणी उनकी हार से पहले की हताशा को दर्शाती है। श्री यादव ने कहा कि भाजपा के लोगों ने देश के नौजवानों के साथ धोखा किया। किसानों के साथ धोखा किया। लोकतंत्र में इतना झूठ किसी ने नहीं बोला होगा जितना भाजपा के लोग बोलते हैं। उन्होंने कहा कि देश नए प्रधानमंत्री का इंतजार कर रहा है। उन्होंने कहा कि कहा जा रहा है कि दुनिया में भारत का डंका बज रहा है। इतना बड़ा झूठ बोलने में भी भाजपा को शर्म नहीं आ रही है। दुनिया में सबसे ज्यादा बेरोजगार भारत में ही रहते हैं। इसका भी डंका बज रहा है। हेल्थ इंडीकेटर्स पर जाएं और बीमारियों पर चर्चा करें तो कई स्टडी बताती हैं कि दुनिया में सबसे ज्यादा बीमारी भारत में फैल रही है। इसका भी डंका बज रहा है। कई रिपोर्ट बता रही हैं कि सबसे ज्यादा कैंसर पीड़ति भारत में ही हैं। इसके बाद आने वाले समय में सबसे ज्यादा कैंसर का खतरा भारतीयों को ही है। श्री यादव ने भाजपा के विकास कार्य पर भी तंज कसा। उन्होंने कहा कि वह महिलाएं इंतजार कर रही हैं, जिन्हें सिलेंडर और चूल्हा दिया गया था। चुनाव आए तो बताएं सिलेंडर कैसे भरा जाता है। वाराणसी में प्रवासी सम्मेलन पर अखिलेश यादव ने कहा हमें उम्मीद है कि कुंभ में नहाने के बाद वह यूपी में इन्वेस्टमेंट करेंगे। उन्होंने कहा कि मुझे उम्मीद है कि प्रवासी कुछ इन्वेस्ट करेंगे, कुम्भ देखकर मन बदलेगा। उन्हें भरोसा दिलाना होगा। ठोको नीति से उनका भरोसा नहीं जीता जा सकेगा। हमने पत्रकारों का सम्मान किया, लेकिन यह लोग उनकी पिटाई करवा रहे हैं।

Share it
Top