भ्रष्टाचार के खिलाफ लडाई से बौखला गया विपक्ष: मोदी...कहा- इसी कारण समस्त विपक्षी दल एक मंच पर आ गये

भ्रष्टाचार के खिलाफ लडाई से बौखला गया विपक्ष: मोदी...कहा- इसी कारण समस्त विपक्षी दल एक मंच पर आ गये

सिलवासा। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने आज कांग्रेस, तृणमूल कांग्रेस, विपक्षी महागठबंधन तथा कोलकाता में आज आयोजित विपक्षी रैली पर जबरदस्त हमला किया और कहा कि भ्रष्टाचार के खिलाफ उनकी लड़ाई से बौखलाये ये दल किसी तरह एक मंच पर आने का प्रयास कर रहे हैं। श्री मोदी ने आज यहां एक रैली में कहा कि उनकी सरकार सबका साथ सबका विकास की मूल भावना के साथ योजनाएं बना और उन पर काम कर रही है। कांग्रेस पर प्रहार करते हुए उन्होंने कहा कि वह दल, जिसने दशकों सरकार चलायी वह हर काम में अपनी या अपने परिवार की संभावनाएं देखता था, इसलिए वह काम से ज्याद नाम पर ध्यान देता था। मेरी सरकार ने इन पुराने सरकारी संस्कारों को बदला है और अब नाम से ज्यादा काम पर बल दिया जाता है। इसीलिए आयुष्मान भारत, उज्जवला, मुद्रा, जनधन, कृषि सिंचाई योजना आदि किसी में कहीं भी मोदी का नाम नहीं है। यह दिखाता है कि हमारी नीयत जनता के विकास की है परिवार के विकास की न हमारी संस्कृति है और न इरादा है। उन्होंने कहा, 'हमारे लिये तो 125 करोड देशवासी ही परिवार है और इनका कल्याण ही हमारे कल्याण का मार्ग यही साफ नियत और स्पष्ट नीति इनको जरा खटक रही है। मोदी सरकार के पुराने संस्कारों को क्यों बदल रहा है इससे तकलीफ हो रही है। इन्हें दिक्कत है कि मोदी भ्रष्टाच़ार के खिलाफ इतनी कड़ी कार्रवाई क्यों कर रहा है। पर आप बताइये कि ऐसा करना चाहिए या नहीं, देश को इससे मुक्ति दिलानी चाहिए कि नहीं। इन्हे यह भी परेशानी है कि गरीबों का हक हड़प जाने वाले बिचौलियों, दलालों को क्यों बाहर निकाल दिया गया है। इसी गुस्से की वजह से ये लोग एक महागठबंधन बनाने की कोशिश कर रहे हैं। हालत यह है कि जो पहले कांग्रेस को पानी पी पी कर कोसते थे वे एक मंच पर आ गये हैं।Ó उन्होंने कहा, 'यह महागठबंधन केवल मोदी के नहीं, बल्कि देश की जनता के भी खिलाफ है। अभी तो ये पूरी तरह साथ भी आये नहीं पर हिस्से पर मोलभाव, लेन-देन शुरू हो गया है। नौजवान किसान महिलाएं पहली बार वोट डालने वाला युवा यह सब बारीकी से देख रहा है। इनकी आंखों में कोई धूल झोंक नहीं पायेगा। मोदी विरोधी गठजोड़ का प्रयास करने वालों की दुनिया मोदी के नफरत से शुरू होकर मोदी को गालियां देकर समाप्त हो जाती है पर मेरी दुनिया देसवासियों के कल्याण के संकल्प के साथ शुरू होती है। दिन भर पसीना बहा कर जब रात को सोने जाता हूं तो संतोष होता है कि आज कितना काम किया। पर इनकी दुनिया अपने परिवार भाई भतीजों को आगे बढाने पर ही केंद्रित है। इनके पास भारत के भविष्य की बात नहीं विजन नहीं पर मेरी कोशिश 21 वीं सदी में भारत को श्रेष्ठतम देश बनाने की है। अपने परिवार की सल्तनत फिर बनाने के लिए ये कितने हीं गठबंधन बना ले इनके कुकर्म इनका पीछा नहीं छोड़ेंगे। ये बच नहीं सकते। सिर्फ मोदी का विरोध और इनके स्वार्थ की राजनीति इन देश विरोधियों को लोगों के दिलों में जगह नहीं दिला सकेगी। जनता ने इनकी जड़े उखाड़ दी है तो ये आकुल व्याकुल हैं।Ó कोलकाता में आज की रैली पर प्रहार करते हुए उन्होंने कहा कि पश्चिम बंगाल में बीजेपी का केवल एक एमएलए है, लेकिन वहां बीजेपी से बचने के लिए पूरे हिन्दुस्तान के सारे लोग इक_े हो रहे है। एक एमएलए वाली पार्टी ने उनकी नींद हराम कर दी है। हम सत्य के मार्ग पर चलने वाले लोग हैं और हिन्दुस्तान के सभी गलत काम करने वाले वहां जमा होकर बचाओ बचाओ के नारे लगा रहे हैं। ये लोग बंगाल हो केरल हो डगर डगर पर जुल्मशाही करते हैं। जिस बंगाल में राजनीतिक पार्टी के कार्यक्रम पर रोक लगायी जाती हो, हर प्रकार की अलोकतांत्रिक प्रक्रिया से लोकतंत्र का गला घोंटा जाता हो वहां ये लोग एकत्र होकर लोकतंत्र बचाने की बात करते हैं। उन्होंने कहा, 'मैं बंगाल का चित्र देखता हूं तो लोकतंत्र का गला घोटने और पंचाचत चुनाव में नामांकन भर करने पर हत्या करने की बात याद आती है। जब ऐसे लोग वहां जुट कर लोकतंत्र बचाने की बात करते हैं तो लोगों के मुंह से यही निकलता है कि वाह क्या सीन है। यह लडाई विकास और भ्रष्टचार, जनता और महागठबंधन तथा सकारात्मक और नकारातमक के बीच की है। सकारात्मक सोच ही नये भारत के निर्माण का रास्ता है और इसी पर सबको तेज गति से चलना है। उन्होंने कहा कि कोलकाता में लोग दल बचाने के लिए मिले हैं और वे खुद को बचाने के लिए सहारा ढूंढ रहे हैं जबकि मै देश को बचाने के लिए सबका साथ लेकर चल रहा हूं। श्री मोदी ने आज गुजरात के सीमावर्ती इस केंद्रशासित शहर में 2०० करोड़ की लागत से बनने वाले 15० सीटों वाले पहले मेडिकल कॉलेज के शिलान्यास समेत 14०० करोड़ से अधिक के विकास कार्यों का शिलान्यास अथवा लोकार्पण भी किया।

Share it
Top