तीन राज्यों में भाजपा की नहीं हुई हार: शाह...कहा- वहां विरोधी जीते, हम हारे नहीं

तीन राज्यों में भाजपा की नहीं हुई हार: शाह...कहा- वहां विरोधी जीते, हम हारे नहीं

नई दिल्ली। भारतीय जनता पार्टी अध्यक्ष अमित शाह ने मध्य प्रदेश, राजस्थान और छत्तीसगढ़ में पिछले दिनों हुए चुनावों में हार के बारे में कार्यकर्ताओं से कहा कि उन्हें निराश होने की जरूरत नहीं है क्योंकि वहाँ 'हम पराजित नहीं हुये हैं। श्री शाह ने यहाँ रामलीला मैदान में पार्टी के राष्ट्रीय अधिवेशन के दूसरे दिन अपने अध्यक्षीय संबोधन में कहा 'वहाँ हमारे विरोधी जरूर जीते हैं, लेकिन हम पराजित नहीं हुए हैं। इसे पराजय नहीं कहते। पराजय उसे कहते हैं, जो कांग्रेस के साथ उत्तर प्रदेश में हुआ। दूरबीन लेकर खोजने से भी उसका पता नहीं चलता। बिहार और पश्चिम बंगाल में भी उसका यही हाल है जहाँ खोजने से भी कांग्रेस नहीं मिलती। उन्होंने कार्यकर्ताओं से कहा कि इसलिए उन्हें हौसला खोने की जरूरत नहीं है। इस साल होने वाले लोकसभा चुनाव की रणनीति का ऐलान करते हुये उन्होंने कहा कि यह कार्यकर्ताओं के लिए पार्टी की विचारधारा को घर-घर पहुँचाने का उत्तम मौका है। उन्होंने कहा 'एक भी घर छूट न जाये, जहाँ मोदी की तस्वीर और भाजपा के निशान वाली पर्ची न पहुँचे। उन्होंने कहा कि चुनाव से पहले एक दिन तय कर देश में कमल दिवाली मनायी जायेगी। हर घर में उस दिन दिया जलाया जायेगा। भाजपा अध्यक्ष ने बताया कि हर लोकसभा क्षेत्र में पार्टी की ओर से एक-एक कॉलसेंटर बनाया गया है। कार्यकर्ताओं को यह सुनिश्चित करना है कि उनके बूथ पर सुबह 10.30 से पहले सारे वोट डाल दिये जायें। श्री शाह ने कहा कि मोदी सरकार ने एक के बाद एक गरीब कल्याण की कई योजनाएँ बनाई हैं। कार्यकर्ताओं को सिर्फ 22 करोड़ गरीब लाभार्थियों तक पहुँचना है। उनके समर्थन के बाद कोई गठबंधन हमें हरा नहीं सकता। उन्होंने कहा 'कांग्रेस ने देश को परिवारवाद, जातिवाद और तुष्टिकरण की राजनीति दी है। हम 1950 से ही सांस्कृतिक राष्ट्रवाद, अंत्योदय की विचारधारा लेकर निकले हैं। यह भारत को शक्तिशाली राष्ट्र बनाने के लिए महत्तवपूर्ण है। भाजपा अध्यक्ष ने ऐलान किया कि इस बार '50 प्रतिशत' की लड़ाई है। उनका आशय 50 प्रतिशत से ज्यादा मत हासिल करने से था। उन्होंने कहा 'जितने को एकत्र होना है हो जायें। इस बार 50 प्रतिशत की लड़ाई के लिए कार्यकर्ता तैयार रहें। उन्होंने कार्यकर्ताओं से एक ही मंत्र पर काम करने के लिए कहा कि इस बाद फिर से मोदी जी की सरकार बनानी है। [रॉयल बुलेटिन अब आपके मोबाइल पर भी उपलब्ध, ROYALBULLETIN पर क्लिक करें और डाउनलोड करे मोबाइल एप]

Share it
Top