मेरठ: वकीलों और पुलिस के बीच हाथापाई...दो वकीलों को दिल का दौरा पडने से मची अफरा-तफरी, कई लोग घायल, जमकर हुआ हंगामा

मेरठ: वकीलों और पुलिस के बीच हाथापाई...दो वकीलों को दिल का दौरा पडने से मची अफरा-तफरी, कई लोग घायल, जमकर हुआ हंगामा

मेरठ/मुजफ्फरनगर। भारतीय जनता पार्टी की प्रदेश कार्यसमिति की बैठक शुरु होने से ऐन पहले मेरठ में मुख्यमंत्री का विरोध करते हुए वकीलों ने पार्टी अध्यक्ष अमित शाह का पुतला फूंका। पुलिस और प्रशासन के तमाम प्रयासों को धता बताते हुए वकीलों ने सुभारती के निकट श्री शाह के पुतले को आग के हवाले कर दिया। इस दौरान पुलिस और वकीलों के बीच टकराव हुआ। पुलिस की हाथापाई में दो वकीलों को दिल का दौरा पड़ गया, जिससे अफरा-तफरी मच गई और उन्हें फौरन ही अस्पताल में भर्ती करवाया गया।

पुलिस के अनुसार मेरठ में शनिवार सुबह अधिवक्ता बड़ी संख्या में कचहरी परिसर में जमा हुए, जहां उन्होंने पश्चिमी उत्तर प्रदेश में उच्च न्यायालय की पीठ स्थापित करने के लिये आंदोलन को आगे बढ़ाने के लिए बैठक की। वकीलों के आंदोलन को देखते हुए पहले से ही बड़ी संख्या में पुलिस बल कचहरी के चारों ओर तैनात किया गया था। इसके बाद भी अधिवक्ता कचहरी से भाजपा कार्यसमिति की बैठक का विरोध करने सुभारती रवाना हो गये। पुलिस अधीक्षक नगर के नेतृत्व में मौजूद पुलिस ने वहां अधिवक्ताओं को रोकने का प्रयास किया, जिस कारण दोनों में धक्का-मुक्की और हाथापाई हुई और नौबत मारपीट तक भी आई। वकीलों का उग्र रूप देखकर पुलिस ने कदम पीछे खींच लिए और अधिवक्ता पुलिस से धक्का-मुक्की करते हुए बस में सवार होकर मौके पर पहुंच गये। इस दौरान वकील सड़क पर लेट गये। करीब दो घंटे चले हंगामे और जाम के बाद अधिवक्ता गिरफ्तारी देने के लिए तैयार हुए। इसके बाद करीब डेढ़ सौ वकीलों को तीन बसों में भरकर पुलिस लाइन ले जाया गया, जहां पुलिस पर मारपीट का आरोप लगाकर वकीलों ने जबरदस्त हंगामा किया। पुलिस एवं प्रशासनिक अधिकारियों ने उग्र वकीलों को समझा कर शांत करने का प्रयास किया। इस दौरान पुलिस की हाथापाई में दो वकीलों को दिल का दौरा पड़ गया, जिससे अफरा-तफरी मच गई और उन्हें फौरन ही अस्पताल में भर्ती करवाया गया।

मुजफ्फरनगर से प्राप्त समाचार के अनुसार पश्चिमी उत्तर प्रदेश में हाईकोर्ट बेंच की स्थापना कराने की मांग को लेकर आज मेरठ में विरोध प्रदर्शन करने जा रहे मुजफ्फरनगर के अधिवक्ताओं को थाना मंसूरपुर पर भारी फोर्स ने रोक लिया, जिसके बाद अधिवक्ताओं ने जमकर हंगामा काटा और कुछ देर के लिए हाईवे जाम कर दिया। बाद में सभी अधिवक्ताओं को अस्थाई रूप से हिरासत में लेकर थाना मंसूरपुर लाया गया। आज मेरठ में भाजपा कार्यसमिति की बैठक के दौरान पश्चिमी उत्तर प्रदेश के अधिवक्ताओं ने विरोध प्रदर्शन करने की रणनीति बनाई थी। मुजफ्फरनगर से भी बडी संख्या में अधिवक्ता जिला बार संघ अध्यक्ष राजेश्वर त्यागी तथा सचिव सुनील दत्त शर्मा की अगुवाई में मेरठ में विरोध प्रदर्शन करने के लिए रवाना हुए। मंसूरपुर थाने के सामने अधिवक्ताओं को भारी फोर्स के साथ मौजूद पुलिस अधिकारियों ने रोक लिया। पुलिस अधिकारियो के साथ अधिवक्ताओं की जमकर झडप हुई। अधिवक्ता सडक पर बैठ गए, जिसके कारण थोडी देर के लिए हाईवे भी जाम रहा। बाद में अधिवक्ताओं को अस्थाई रूप से हिरासत में लेकर थाना मंसूरपुर लाया गया। कई घंटे चले हंगामे के बाद पुलिस ने अधिवक्ताओं को रिहा कर दिया।

Share it
Share it
Share it
Top