राजनीति: सत्ता का मोह कभी नहीं छूटता

राजनीति: सत्ता का मोह कभी नहीं छूटता

वाकई हमारा देश महान है। 21 से 25 वर्ष की उम्र में जिलाधिकारी बना जा सकता है किन्तु मंत्री नहीं। राजीव गांधी अपवाद रहे हैं अन्यथा 40 के अन्दर का कोई भी नेता कभी भी महत्त्वपूर्ण पद पर आसीन नहीं हो पाया। सत्ता के मोह में अंधे नेताओं से स्वेच्छापूर्वक सेवानिवृत्ति की उम्मीद करना सिवाय बेईमानी के कुछ और नहीं कहा जाएगा।
दुर्भाग्य ही कहना पड़ेगा कि राजनीतिज्ञों ने जबरन बेटे-बेटियों को जनता पर थोपा है। कलेक्टर की मौत के बाद उनकी विधवा पत्नी को कलेक्टर की नौकरी क्यों नहीं मिलती। यहां परीक्षा में उत्तीर्ण होना जरूरी है। सैन्य अधिकारियों के भी पुत्र-पुत्रियों को सीधे प्रवेश नहीं मिलता। सीधे प्रवेश की सुविधा सिर्फ राजनीतिज्ञों के परिजनों को प्राप्त है। वाकई प्रजातंत्र महान है और महान हैं हम सभी जो चुप्पी साधे तमाशा देखना पसंद करते हैं।
यह मान्यता सही नहीं कि जनप्रतिनिधि की हैसियत से ही जनसेवा की जा सकती है। सत्ता का मोह ही है जो मुद्दाहीन, सिद्धांतों को भुलाती राजनीति को बढ़ावा दे रहे हैं। सत्ता से दूरी नागवार है। सत्ता पर बने रहने के लिए ही नेतागण ईमान, नैतिकता, राष्ट्रधर्म भूलते जा रहे हैं। दल-बदल निरोधक विधेयक पारित हो जाने के बाद भी समस्या का सुखांत नहीं हो गया। नेताओं ने दूसरा तरीका खोज निकाला। छोटे-छोटे दलों का गठन हो जाता है।
गठबंधन का जमाना है। निर्दलीय विधायक सांसद तो अपनी शर्तों पर सरकारों को बनाने और बिगाडऩे का खेल खेलते हैं। पार्टी के प्रति निष्ठा का औचित्य कुछ नहीं रहा। टिकट कटी नहीं कि निष्ठा समाप्त हो जाती है। मंत्री पद नहीं मिला कि निष्ठा प्रभावित होने लगती है। दुर्भाग्य ही कहना पड़ेगा कि अस्वस्थ, असक्षम नेताओं का बोझ भी देश बेवजह ही ढो रहा है।
आखिर कब तक हमारे नेतागण सत्ता-सत्ता खेल खेलते रहेंगे? जनता को मार्गदर्शन देने वाले मार्गदर्शक ही यदि दिशाहीन पथ पर अग्रसर हों तो देश का भविष्य कैसा होगा, कहने की जरूरत नहीं।
आज के नेताओं में लूट-खसोट की स्पर्धा चल रही है। 5 वर्ष के शासनकाल में कौन कितने करोड़ समेट सकता है, यह महत्वपूर्ण हो गया है। सभी धृतराष्ट्र बन चुके हैं। महाभारत के धृतराष्ट्र तो पुत्रमोह में ही पागल थे। आधुनिक भारत के धृतराष्ट्र सत्ता मोह में अंधे हैं। भगवान ही मालिक है इस देश का।
- राजेद्र मिश्र 'राज'

Share it
Share it
Share it
Top