Read latest updates about "सोशल चौपाल" - Page 3

  • कैप्टन के वादे कब होंगे पूरे?

    पंजाब में अकाली दल के प्रकाश सिंह बादल को बेदखल कर कांग्रेस के कैप्टन अमरिंदर सिंह को सत्ता पर बैठे एक वर्ष पूरा हो गया किंतु राजनीतिक स्थिति जरा भी नहीं सुधरी। पंजाब में सरकार बदली किंतु समस्या यथावत है। पंजाब में 2017 के विधानसभा चुनाव के समय सत्तारूढ़ शिरोमणि अकाली दल एवं भाजपा...

  • मुद्दाः वहशियत - कठुआ से उन्नाव तक

    एक बार फिर देश सदमे में है। 'यत्र नार्यस्तु पूज्यंते' के देश में एक विधायक पर न केवल एक लड़की के साथ बलात्कार का आरोप है अपितु आरोप यह भी है कि उसने खुद को बचाने के लिए उसी लड़की के पिता को भी पुलिस कस्टड़ी में ही मरवा डाला। सहसा यकीन ही नहीं होता कि एक लोकतांत्रिक देश में मुंह खोलने का अंजाम इतना...

  • राष्ट्ररंग: सियासी जंग के लिए बिछती बारूदी सुरंगें

    लोकसभा चुनावों को अभी एक वर्ष बाकी है लेकिन माहौल अभी से इतना गर्म हो गया है कि न संसद ठीक से चल रही है, न सियासत। कुछ तत्वों को अपनी राजनीति चमकाने के लिए समाज को बांटने से भी गुरेज नहीं इसलिए कभी किसी फिल्म के नाम पर तो कभी न्यायालय के किसी आदेश के लिए सरकार को दोषी ठहराते हुए बंद, हंगामा, हिंसा,...

  • विश्लेषण: सुप्रीमकोर्ट के फैसले से नाराजगी कैसी?

    देश की सर्वोच्च अदालत द्वारा एससी-एसटी उत्पीडऩ रोकथाम कानून के दुरुपयोग को रोकने के बाबत की गई व्यवस्था के खिलाफ आंदोलन में उग्र व हिंसक वारदातें सामने आई। इसी बीच केंद्र सरकार ने अदालत की व्यवस्था के खिलाफ पुनर्विचार याचिका दाखिल की है। सुप्रीम कोर्ट ने भी तत्काल कोई निर्णय लेने के बजाय उचित वक्त...

  • राजनीति: त्रिकोणीय मुकाबले में उलझा कर्नाटक

    कर्नाटक में जैसे-जैसे विधानसभा चुनाव के लिए मतदान की घड़ी नजदीक आती जा रही है वैसे - वैसे यहां का चुनावी मुकाबला त्रिकोणीय और जटिल होता जा रहा है। यहां विधानसभा की कुल 224 सीटों के लिए एक साथ 12 मई को मतदान होगा जिसके वोटों की गिनती 18 मई को होगी। इन दिनों सबकी नजर एवं चर्चा में...

  • राष्ट्ररंग: ठोस अपशिष्ट प्रबंधन नियम अनिवार्य रूप से लागू हो

    हाल ही में ठोस अपशिष्ट प्रबंधन नियमों को लागू नहीं किए जाने पर सुप्रीम कोर्ट ने नाराजगी जताते हुए कहा कि भारत एक दिन कूड़े के ढेर में दब जाएगा। यह तल्ख टिप्पणी कूड़े के बम पर बैठे शहरों और तेजी से इसकी जकडऩ में आते कस्बों-गांवों में ठोस कचरा प्रबंधन की पोल खोलने के लिए काफी है। देश में...

  • राष्ट्ररंग: जनता फटेहाल, तेल कंपनियां मालामाल

    पहले से ही महंगाई की मार झेल रहे आम आदमी को अब तेल की बढ़ी कीमत ने रुलाना शुरू कर दिया है। सरकार को भले ही इस बात का अहसास न हो मगर देश के कई भागों में पेट्रोल 85 एवं डीजल 68 रुपये को पार कर गया है। सरकार ने चालाकी के साथ मूल्य निर्धारण को खरीद मूल्य के साथ जोड़ दिया है। इससे जनता फटेहाल है, वहीं...

  • समस्या: पेंशन के लिए भटक रहे हैं बुजुर्ग

    पेंशन यानी जीवन भर की भागदौड़ के बाद सांसों को कायम रखने के लिए मिलने वाली रकम। सरकारें लोककल्याणकारी राज्य का दावा करती हैं लेकिन आज भी पेंशन के लिए भटकना कई बुजुर्गों के लिए नियति बन गई है। कभी सरकारें खाली खजाने के नाम पर पेंशन फंड बंद कर देती हैं तो कभी कई-कई महीनों तक पेंशन नहीं मिलती है।...

  • त्रिवेन्द्र रावत की सरकार कुछ अलग नजर नहीं आयी

    उत्तराखण्ड में पहली बार दो तिहाई से अधिक बहुमत हासिल कर सत्ता में आने वाली त्रिवेन्द्र सिंह रावत की सरकार का पहला साल अपने प्रचण्ड बहुमत का डंका पीटने और कांग्रेस को बुरी तरह पछाडऩे की खुशी के अतिरेक में गुजर गया मगर विशिष्ट परिस्थितियों से घिरे इस पहाड़ी राज्य के लोगों को इस माटी के सपूत...

  • समस्या: कैसे बचेगी गटर में दम तोड़ती जिंदगी?

    देश के विभिन्न हिस्सों में पिछले छ: माह में गटर की सफाई करने के दौरान 100 से अधिक व्यक्तियों की मौत हो चुकी है। अधिकतर टैंक की सफाई के दौरान मरने वालों की उम्र 20 से 50 वर्ष के लोगों की होती है। समाज के जिम्मेदार लोगों ने कभी महसूस ही नहीं किया कि नरक-कुंड की सफाई के लिए बगैर तकनीकी ज्ञान व उपकरणों...

  • राजनीति: आतंकवाद की राजनीति से देश की अखण्डता को खतरा

    देश में गत दो-तीन दशकों से जिस प्रकार आतंकवाद पनप रहा है, उससे देश की अखण्डता को ही खतरा उत्पन्न हो रहा है तथा देश के कर्णधार राजनीतिज्ञ अपने-अपने राजनैतिक स्वार्थ सिद्धि के लिए ही प्रयासरत् हैं। आतंकवाद के उन्मूलन के लिए देश के लोकतांत्रिक मन्दिरों-लोकसभा, राज्यसभा तथा राज्यों की विधानसभाओं व...

  • राजनीति: तेज होती गठबंधन की राजनीति

    गुजरात विधानसभा चुनाव और उपचुनाव में भाजपा को कड़ी टक्कर देने के बाद भाजपा विरोधी दलों का आत्मविश्वास सातवें आसमान पर है। अभी हाल ही में देश के सबसे बड़े राज्यं उत्तर प्रदेश की गोरखपुर और फूलपुर संसदीय सीटों पर सपा को मिली जीत के बाद विपक्ष को अपना भविष्य उज्ज्वल दिखाई दे रहा है। अगर कहा जाए कि...

Share it
Share it
Share it
Top